विशेषताएं और लाभ

  • Easy renewal
    आसान रिन्यूअल

    मेच्योरिटी के समय अपनी एनआरआई एफडी रिन्यू करें और लंबी अवधि के लिए इन्वेस्टेड रहें.

  • Safety and credibility
    सुरक्षा और विश्वसनीयता

    बजाज फाइनेंस फिक्स्ड डिपॉजिट को इकरा द्वारा एमएएए/स्टेबल और क्रिसिल द्वारा एफएएए/स्टेबल की उच्चतम सुरक्षा रेटिंग प्राप्त है

  • Senior citizen benefits
    सीनियर सिटीज़न के लाभ

    अगर आपकी आयु 60 वर्ष से अधिक है, तो अपने धन को तेज़ी से बढ़ाने के लिए 0.25% तक का अतिरिक्त ब्याज़ दर का लाभ प्राप्त करें

  • Attractive returns
    आकर्षक रिटर्न

    अपने पैसे को 7.05% तक की ब्याज़ दर पर बढ़ाएं

अनिवासी भारतीय (एनआरआई) जो अपने पोर्टफोलियो को विविध बनाना चाहते हैं, वे एनआरआई के लिए आकर्षक और गारंटीड रिटर्न प्राप्त करने के लिए बजाज फाइनेंस फिक्स्ड डिपॉजिट में इन्वेस्ट कर सकते हैं. बजाज फाइनेंस अनिवासी भारतीयों, भारत के विदेशी नागरिकों और भारतीय मूल के किसी भी व्यक्ति को एफडी की सुविधा प्रदान करता है. निवेशक एनआरओ अकाउंट के माध्यम से इन्वेस्ट करना शुरू कर सकते हैं.

एनआरआई के रूप में आप 7.05% तक की ब्याज़ दरों पर अपनी संपत्ति बढ़ा सकते हैं. अपनी फाइनेंशियल ज़रूरतों के लिए मेच्योरिटी राशि प्राप्त करने के लिए 12 महीनों से 36 महीनों के बीच की अवधि चुनें, औरअपने टैक्स भुगतान को कम करने के लिए डीटीएए के तहत टैक्स लाभ का क्लेम करें.

बजाज फाइनेंस एनआरआई एफडी को इकरा की एमएएए (स्टेबल) रेटिंग और क्रिसिल की एफएएए/स्टेबल रेटिंग प्राप्त है, जो मेच्योरिटी पर इन्वेस्टर्स को गारंटीड रिटर्न सुनिश्चित करते हैं. एफडी में इन्वेस्टमेंट करके स्टॉक मार्केट के उतार-चढ़ाव या ब्याज़ दर में आते उतार-चढ़ावों से खुद को सुरक्षित रखें. आप आवर्ती खर्चों के लिए लिक्विडिटी की आवश्यकता होने पर आवधिक ब्याज़ भुगतान का लाभ भी उठा सकते हैं.

अधिक पढ़ें कम पढ़ें

एनआरआई फिक्स्ड डिपॉजिट की ब्याज़ दरें

बजाज फाइनेंस द्वारा प्रदान की गई लेटेस्ट एफडी ब्याज़ रें इस प्रकार हैं.

रु. 25,000 से रु. 5 करोड़ तक की डिपॉजिट पर मान्य वार्षिक ब्याज़ दर (प्रभावी. दिसंबर 01, 2021)

अवधि (महीने में)

12 – 23

24 – 35

36

संचयी

5.65%

6.40%

6.80%

मासिक

5.51%

6.22%

6.60%

त्रैमासिक

5.53%

6.25%

6.63%

अर्ध-वार्षिक

5.57%

6.30%

6.69%

वार्षिक

5.65%

6.40%

6.80%


दर के लाभ के आधार पर कस्टमर की कैटेगरी (प्रभावी होने की तिथि. दिसंबर 01, 2021)

  • सीनियर सिटीज़न के लिए 0.25% तक के अतिरिक्त दर लाभ

सामान्य प्रश्न

एनआरआई एफडी क्या है?

एक एनआरआई फिक्स्ड डिपॉजिट विदेश में रहने वाले भारतीयों को अपने अनिवासी सामान्य अकाउंट के माध्यम से इन्वेस्ट करने की अनुमति देता है. यह इन्वेस्टमेंट विकल्प एनआरआई को भारतीय रुपए में इन्वेस्टमेंट करने और भारत में फिक्स्ड डिपॉजिट पर लागू उच्च ब्याज़ दरों का लाभ उठाने में सक्षम बनाता है.

क्या अनिवासी भारतीय (एनआरआई) बजाज फाइनेंस के साथ इन्वेस्टमेंट कर सकते हैं?

हां, एनआरआई, भारत के विदेशी नागरिक और भारतीय मूल के लोग अपने अनिवासी सामान्य अकाउंट के माध्यम से बजाज फाइनेंस एफडी में इन्वेस्ट कर सकते हैं.

एनआरआई एफडी के लिए भुगतान का कौन सा तरीका स्वीकार किया जाता है?

अनिवासी सामान्य बैंक अकाउंट से चेक या आरटीजीएस/एनईएफटी के माध्यम से भुगतान स्वीकार किया जाता है. डिमांड ड्राफ्ट, डेबिट कार्ड, आईएमपीएस या यूपीआई के माध्यम से भुगतान की अनुमति नहीं है.

कौनसी एनबीएफसी एनआरआई को सबसे अधिक ब्याज़ देती है?

बजाज फाइनेंस एफडी सीनियर सिटीज़न के लिए 7.05% तक और 60 वर्ष से कम आयु के कस्टमर के लिए 6.80% तक की आकर्षक ब्याज़ दरें प्रदान करता है.

क्या एनआरआई एफडी पर लोन ले सकते हैं?

नहीं, एनआरआई, भारत के विदेशी नागरिक और भारतीय मूल के अन्य लोगों के लिए फिक्स्ड डिपॉजिट पर लोन उपलब्ध नहीं है.

क्या एनआरआई डबल टैक्स के भुगतान से बच सकते हैं?

हां, एनआरआई डबल टैक्स अवॉयडेंस एग्रीमेंट (डीटीएए) के तहत क्लेम करके, स्रोत देश और निवास के देश में अर्जित आय पर टैक्स का भुगतान करने से बच सकते हैं.

क्या एनआरआई फिक्स्ड डिपॉजिट के लिए पैन अनिवार्य है?

हां. भारतीय सिक्योरिटीज़ और एक्सचेंज बोर्ड के अनुसार, अगर कोई एनआरआई भारत में इन्वेस्ट करना चाहता है, तो पैन कार्ड अनिवार्य है. इन्वेस्ट करने के बाद, आपकी भारत में आय पर टैक्स लगाया जाएगा, जिसे आपके पैन के अनुसार रिकॉर्ड किया जाना चाहिए.

क्या स्रोत पर टैक्स कटौती (टीडीएस) एनआरआई एफडी पर लागू होती है?

एनआरआई फिक्स्ड डिपॉजिट पर टीडीएस लागू होता है. हालांकि, एनआरआई फिक्स्ड डिपॉजिट के लिए इनकम टैक्स के लिए अलग नियम हैं.

क्या एनआरआई को आधार कार्ड मिल सकता है?

हां. बजट 2019 की घोषणाओं के अनुसार, मान्य भारतीय पासपोर्ट वाले एनआरआई अब आधार कार्ड के लिए अप्लाई कर सकते हैं. उन्हें अब अनिवार्य 180 दिनों की अवधि तक प्रतीक्षा करने की आवश्यकता नहीं होगी. केवाईसी को फास्ट-फॉरवर्ड भी किया जाएगा, और इस कार्ड को जारी करने से भारत में एनआरआई के लिए फाइनेंशियल ट्रांज़ैक्शन तेज़ हो जाएंगे.

भारत में इनकम टैक्स रिटर्न दाखिल करने के लिए आधार कार्ड की जानकरी देना अनिवार्य है. इसलिए, आकर्षक इन्वेस्टमेंट विकल्पों के लाभ प्राप्त करने के लिए हर एनआरआई के पास आधार कार्ड होना आवश्यक है. स्रोत पर टैक्स कटौती (टीडीएस) एनआरआई डिपॉजिट स्कीम पर लागू होती है. साथ ही, हो सकता है कि टैक्स फाइलिंग भारत में करनी हो, हालांकि वे डबल टैक्स अवॉयडेंस एग्रीमेंट (डीटीएए) के तहत टैक्स लाभ क्लेम कर सकते हैं.

अधिक पढ़ें कम पढ़ें