back

पसंदीदा भाषा

पसंदीदा भाषा

मैटरनिटी हेल्थ इंश्योरेंस प्लान क्या है?

अगर आप फैमिली शुरू करने जा रहे हैं तो सबसे पहले आपको एक कम्प्रीहेंसिव मैटरनिटी इंश्योरेंस प्लान लेने के बारे में सोचना चाहिए जो मैटरनिटी संबंधी ट्रीटमेंट से जुड़े सभी खर्चों को कवर कर सके. इसका कारण यह है कि भारत में बहुत से परिवार फाइनेंशियल जिम्मेदारियों के कारण फैमिली शुरू करने के प्रति चिंतित रहते हैं

होने वाले माता-पिता के लिए मैटरनिटी हेल्थ इंश्योरेंस प्लान बहुत मददगार सिद्ध हो सकते हैं. यह उन्हें तनाव मुक्त करने में मदद करते हैं क्योंकि ये मेडिकल एग्जामिनेशन, दवाओं, मासिक टेस्ट और रिपोर्ट आदि के खर्चों को कवर करते हैं. मैटरनिटी इंश्योरेंस कवरेज का मुख्य उद्देश्य यह है कि यह उन्हें फाइनेंशियल रूप से सुरक्षित रहने और अचानक आने वाली एमरजेंसी स्थितियों के लिए तैयार रहने में मदद करता है.

मैटरनिटी हेल्थ इंश्योरेंस की विशेषताएं और लाभ

  • कॅम्प्रीहेंसिव कवरेज

    मेटरनिटी हेल्थ इंश्योरेंस डिलीवरी, हॉस्पिटल में रहने के खर्च, दवाओं, नवजात शिशु कवर, प्रेग्नेंसी की जटिलताओं और अन्य खर्चों को कवर करता है.

  • नवजात की देखभाल

    अगर नवजात शिशु में किसी प्रकार के गंभीर रोग का पता चलता है तो उसे भी पॉलिसी का कवरेज प्रदान किया जाएगा. यह पॉलिसी नवजात शिशु को जन्म से 90 दिनों तक कवर करती है, जिसमें टीकाकरण शामिल हैं

  • आसान ऑनलाइन एप्लीकेशन

    मैटरनिटी हेल्थ इंश्योरेंस के लिए ऑनलाइन अप्लाई करें

  • एम्बुलेंस शुल्क

    एमरज़ेंसी के दौरान एम्बुलेंस शुल्क इस प्लान के तहत कवर किए जाते हैं.

  • हॉस्पिटलाइज़ेशन कवरेज

    इस प्लान के तहत, हॉस्पिटलाइज़ेशन के 30 दिन पहले तक के और 60 दिन बाद तक के प्रेग्नेंसी से संबंधित खर्च कवर किए जाते हैं.

  • कैशलेस सुविधा

    बजाज फाइनेंस के मैटरनिटी हेल्थ इंश्योरेंस प्लान के साथ, आप इंश्योरर के पैनल में शामिल किसी भी नेटवर्क हॉस्पिटल में कैशलेस सुविधा का लाभ उठा सकते हैं.

  • तुरंत क्लेम सेटलमेंट

    नेटवर्क से बाहर के हॉस्पिटल में कराए गए इलाज के लिए एक ही जगह पर तुरंत क्लेम सेटलमेंट की सुविधा पाएं.

  • क्लेम-फ्री बोनस

    प्रत्येक क्लेम-फ्री वर्ष के लिए 10% संचयी बोनस का लाभ पाएं.

  • टैक्स में बचत

    इनकम टैक्स अधिनियम, 1961 की धारा 80D के तहत रु. 60,000 तक की टैक्स छूट का लाभ उठाएं.

मैटरनिटी हेल्थ इंश्योरेंस खरीदते समय ध्यान रखने लायक बातें

हेल्थ इंश्योरेंस प्लान खरीदते समय कुछ महत्वपूर्ण कारकों पर विचार करना ज़रूरी है, इनमें से कुछ के बारे में विस्तार से जानें:

प्रीमियम पर ध्यान केंद्रित करें

कुछ मैटरनिटी हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी उच्च हेल्थ इंश्योरेंस प्रीमियम दरों पर उपलब्ध हैं. इसलिए, अपने बजट में आने वाला मैटरनिटी प्लान चुनना सुनिश्चित करें.

प्रतीक्षा अवधि चेक करें

मैटरनिटी हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी में हमेशा प्रतीक्षा अवधि शामिल होती है. यह प्रतीक्षा अवधि वह समय है जिसमें इंश्योरर आपका क्लेम स्वीकार नहीं करेगा. सीमित प्रतीक्षा अवधि वाला मैटरनिटी हेल्थ इंश्योरेंस प्लान चुनना हमेशा महत्वपूर्ण होता है.

सम इंश्योर्ड चेक करें

पर्याप्त कवरेज वाली हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी चुनना ज़रूरी है.

नेटवर्क हॉस्पिटल्स

कैशलेस ट्रीटमेंट केवल उन पॉलिसीधारकों के लिए उपलब्ध है जो पैनल में शामिल हॉस्पिटल में ट्रीटमेंट कराना चाहते हैं.

मैटरनिटी हेल्थ इंश्योरेंस में क्या कवर किया जाता है?

मैटरनिटी इंश्योरेंस प्लान में शामिल कुछ चीजें निम्नलिखित हैं:

• एम्बुलेंस के खर्च
• दवा
• इनपेशेंट केयर ट्रीटमेंट
• प्री-नेटल खर्च
• फॉलो-अप विजिट
• डे-केयर ट्रीटमेंट
• पोस्ट-नेटल खर्च
• रूम रेंट शुल्क
• सीजेरियन/सामान्य डिलीवरी
• नवजात शिशु कवर

प्रेग्नेंसी इंश्योरेंस के लिए अप्लाई करने के लिए आवश्यक डॉक्यूमेंट

इंश्योरेंस क्लेम फाइल करने के लिए, आपके पास नीचे दिए गए डॉक्यूमेंट तैयार होने चाहिए. इन डॉक्यूमेंट को एक जगह रखना और इनकी एक फाइल बनाकर रखना बेहतर होगा.

• विधिवत रूप से भरा क्लेम फॉर्म
• पॉलिसी डॉक्यूमेंट
• डिस्चार्ज का विवरण
• केवायसी डॉक्यूमेंट
• कंसल्टेशन के बिल
• ओरिजिनल हॉस्पिटल बिल
• पासपोर्ट साइज की फोटो

मैटरनिटी हेल्थ इंश्योरेंस के लिए क्लेम कैसे दर्ज करें

मैटरनिटी हेल्थ इंश्योरेंस के लिए क्लेम करने के लिए नीचे दिए गए क्लेम प्रोसेस का आमतौर पर पालन किया जाता है:

क्लेम की सूचना (एमरजेंसी मामले में - हॉस्पिटलाइज़ेशन के 24 घंटों के भीतर और प्लान किए गए हॉस्पिटलाइज़ेशन के मामले में - 48 घंटों के भीतर)

कैशलेस प्री-ऑथोराइज़ेशन में निम्नलिखित शामिल हैं:

• भरे हुए क्लेम फॉर्म को सबमिट करें जो आपका हॉस्पिटल आपको हॉस्पिटलाइज़ेशन के समय प्रदान करता है
• हॉस्पिटल प्राधिकरण डॉक्टर की रिपोर्ट के साथ आपकी इंश्योरेंस कंपनी को क्लेम फॉर्म भेजता है
• आपके इंश्योरर का एक प्रतिनिधि कोई क्वेरी रेज़ कर सकता है, जिसका जवाब आपको या हॉस्पिटल को देना होगा. अगर आपका क्लेम अप्रूव हो जाता है, तो आपका इंश्योरर आपके लिए पात्र सम इंश्योर्ड के अनुसार सीधे आपके हॉस्पिटल का भुगतान करेगा.

रीइम्बर्समेंट क्लेम प्रोसेस में निम्नलिखित शामिल हैं:

• डिस्चार्ज होने पर रिपोर्ट और मेडिकल ट्रीटमेंट की रसीद और बिल आदि जैसे आवश्यक डॉक्यूमेंट के साथ भरा हुआ क्लेम फॉर्म अपनी इंश्योरेंस कंपनी को सबमिट करें.
• आपके इंश्योरर का एक प्रतिनिधि क्वेरी रेज़ कर सकता है, जिसका आपको जवाब देना होगा और आवश्यकता पड़ने पर अतिरिक्त जानकारी या डॉक्यूमेंट सबमिट करने होंगे.
• अगर आपका क्लेम अप्रूव हो जाता है, तो आपकी इंश्योरेंस कंपनी आपके पात्र सम इंश्योर्ड के अनुसार आपको रीइम्बर्स करेगी

मैटरनिटी इंश्योरेंस के बारे में अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न (FAQ)

अगर आप गर्भवती हैं, तो क्या आप हेल्थ इंश्योरेंस ले सकती हैं?

हां, जब आप गर्भवती हैं तो आप हेल्थ इंश्योरेंस ले सकती हैं. लेकिन, सही समय पर कवरेज लेना हमेशा बेहतर होता है, ताकि प्रतीक्षा अवधि (अगर कोई हो) से बचा जा सके. 

क्या गर्भावस्था को हेल्थ इंश्योरेंस के लिए पहले से मौजूद स्वास्थ्य स्थिति माना जाता है?

हां, मैटरनिटी कवर के साथ हेल्थ इंश्योरेंस में गर्भावस्था को पहले से मौजूद स्थिति माना जाता है, लेकिन रेगुलर हेल्थ इंश्योरेंस में नहीं. इसलिए, जब भी आपको आवश्यक लगे, तो मैटरनिटी कवरेज के साथ हेल्थ इंश्योरेंस खरीदें; उदाहरण के लिए मैटरनिटी हेल्थ इंश्योरेंस को शादी के बाद खरीदा जा सकता है.

मैटरनिटी इंश्योरेंस में मिलने वाले सभी कवरेज कौन से हैं?

गर्भावस्था के लिए हेल्थ इंश्योरेंस के तहत विभिन्न इंश्योरेंस कंपनियां अलग-अलग लाभ प्रदान करती हैं.

आमतौर पर प्लान में माता को पूर्ण हेल्थ इंश्योरेंस कवरेज मिलता है, जैसे कि जन्म से 30 दिन पहले और डिलीवरी के 60 दिन बाद के खर्च, डिलीवरी के खर्च, प्री-एंड पोस्ट-नेटल शुल्क, हॉस्पिटलाइज़ेशन शुल्क और नवजात शिशु कवरेज शामिल होते हैं. यह कवरेज सामान्य और C-सेक्शन डिलीवरी के लिए भी उपलब्ध है.

मैटरनिटी इंश्योरेंस प्रीमियम की गणना कैसे की जाती है?

मैटरनिटी हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी के प्रीमियम आमतौर पर अधिक होते हैं. यह महंगी होती है, क्योंकि अन्य प्रकार के हेल्थ इंश्योरेंस के विपरीत, इस पॉलिसी में क्लेम के मामले में भुगतान की गारंटी दी जाती है. दूसरी ओर, सामान्य हेल्थ इंश्योरेंस पॉलिसी आकस्मिक मेडिकल समस्याओं को कवर करती हैं.

गर्भावस्था की निश्चितता के कारण, इंश्योरर उस हेल्थ इंश्योरेंस के लिए अधिक प्रीमियम लेते हैं, जिनमें मैटरनिटी कवरेज शामिल होता है. हालांकि, किसी भी हेल्थ इंश्योरेंस कवरेज को खरीदने से पहले, आपको सलाह दी जाती है कि आप कवरेज के लाभों और उन लाभों के लिए दिए जाने वाले प्रीमियम की तुलना कर लें. 

गर्भावस्था के लिए कौन सा हेल्थ इंश्योरेंस अच्छा है?

व्यापक कवरेज के लिए, मैटरनिटी कवरेज के साथ हेल्थ इंश्योरेंस का होना आवश्यक है. बजाज फाइनेंस द्वारा प्रदान किए जाने वाले हेल्थ इंश्योरेंस प्लान में ऐड-ऑन फीचर के तहत मैटरनिटी लाभ प्रदान किया जाता है, जिसमें दो डिलीवरी के लिए कवरेज मिलता है. यह नवजात शिशु के वैक्सीनेशन और मेडिकल खर्चों (अगर कोई हो) को भी कवर करता है. प्री व पोस्ट-हॉस्पिटलाइज़ेशन कवरेज के तहत हॉस्पिटल में भर्ती होने के 30 दिनों से पहले और 60 दिनों के बाद के लिए कवरेज भी प्रदान किया जाता है.

क्या आप जानते हैं, अच्छा सिबिल स्कोर लोन और क्रेडिट कार्ड पर बेहतर डील प्राप्त करने में आपकी मदद कर सकता है?