अभी प्राप्त करें image

डिजिटल हेल्थ EMI नेटवर्क कार्ड

image image
Home Loan PMAY List

प्रधानमंत्री आवास योजना लिस्ट

अपना प्रथम और अंतिम नाम दर्ज़ करें
कृपया पूरा नाम दर्ज़ करें
अपना 10 अंकीय मोबाइल नंबर दर्ज़ करें
मोबाइल नंबर का स्थान खाली नहीं छोड़ा जा सकता
अपना पिन कोड दर्ज करें
पिन कोड का स्थान खाली नहीं रह सकता
शून्य
शून्य

मैं बजाज फिनसर्व के प्रतिनिधि को इस एप्लीकेशन और दूसरे प्रोडक्ट/ सेवाओं के लिए कॉल/एसएमएस करने हेतु अधिकृत करता हूं. इस सहमति से डीएनसी/एनडीएनसी के लिए किया गया रजिस्ट्रेशन मान्य नहीं होगा.नियम और शर्तें

कृपया नियम व शर्तें स्वीकार करें
आपके मोबाइल नंबर पर एक OTP भेज दिया गया है

वन टाइम पासवर्ड दर्ज़ करें

0 सेकेंड
गलत मोबाइल नंबर दर्ज़ किया है?
शून्य
निवल मासिक सेलरी दर्ज़ करें
निवल मासिक सेलरी का स्थान खाली नहीं रह सकता
कृपया आवश्यक लोन राशि दर्ज़ करें
शून्य
शून्य
शून्य
कृपया प्रॉपर्टी की लोकेशन चुनें
जन्मतिथि चुनें
कृपया अपनी जन्म तिथि दर्ज़ करें
PAN कार्ड के विवरण दर्ज़ करें
PAN कार्ड का स्थान खाली नहीं रह सकता
लिस्ट में से नियोक्ता का नाम चुनें
व्यक्तिगत ईमेल एड्रेस दर्ज़ करें
पर्सनल ईमेल का स्थान खाली नहीं रह सकता
ऑफिसियल ईमेल एड्रेस दर्ज़ करें
आधिकारिक ईमेल ID का स्थान खाली नहीं रह सकता है
मौजूदा मासिक देनदारियों को दर्ज़ करें
शून्य
शून्य
शून्य
शून्य
शून्य
बिज़नेस विंटेज की वैल्यू चुनें
अपनी मासिक सेलरी दर्ज़ करें
निवल मासिक सेलरी का स्थान खाली नहीं रह सकता
शून्य
कृपया आवश्यक लोन राशि दर्ज़ करें
शून्य
कृपया बैलेंस ट्रांसफर के लिए बैंक चुनें
शून्य
शून्य
प्रॉपर्टी की लोकेशन चुनें
सालाना कारोबार दर्ज़ करें (18-19)
अपना वार्षिक टर्नओवर 17-18 दर्ज करें

धन्यवाद!

PMAY लिस्ट

प्रधानमंत्री आवास योजना भारत में सरकार द्वारा शुरू की गई स्कीम है, जिसका उद्देश्य कमजोर वर्गों को सस्ते घर प्रदान करना है. 25 जून, 2015 को शुरू की गई, PMAY ने 75वें स्वतंत्रता दिवस का जश्न मनाने से पहले 31 मार्च, 2022 तक शहर के निम्न वर्ग के लिए 2 करोड़ घर बनाने का लक्ष्य रखा है.

सरकार, रियल एस्टेट बिल्डरों के सहयोग से, चुनिंदा शहरों में ईको-फ्रेंडली तरीकों से सस्ते पक्के मकानों का निर्माण करने की कोशिश कर रही है. इस प्रमुख प्रोग्राम के अंतर्गत CLSS या क्रेडिट लिंक्ड सब्सिडी स्कीम मौजूदा घरों के निर्माण, खरीद या नवीकरण के लिए होम लोन पर ब्याज़ सब्सिडी प्रदान करती है.

प्रधानमंत्री आवास योजना लिस्ट 2019 व 2018

प्रधानमंत्री आवास योजना के लिए अप्लाई करने के बाद, आपको प्रधानमंत्री आवास योजना लिस्ट 2018-2019 में अपना नाम चेक करने के लिए एक एप्लीकेशन रेफरेंस नंबर प्राप्त होगा. इस लिस्ट में उन व्यक्तियों के नाम हैं, जिनकी एप्लीकेशन स्वीकार कर ली गई हैं.

CLSS स्कीम के लिए पात्रता मानदंड

जो लोग PMAY CLSS स्कीम के लिए अप्लाई करके होम लोन पर ब्याज़ सब्सिडी प्राप्त करना चाहते हैं, उन्हें इसका पात्र बनने के लिए निम्न मानदंडों को पूरा करना चाहिए.

LIG/EWS कैटेगरी के लिए:

  • लाभार्थी परिवार में पति, पत्नी, अविवाहित बेटियां या अविवाहित बेटे होने चाहिए.
  • एक घर की वार्षिक आय रु. 3 लाख से रु. 6 लाख के भीतर होनी चाहिए.
  • प्रॉपर्टी का सह-स्वामित्व परिवार की महिला सदस्य के पास होना चाहिए.

यह कैटेगरी 6.5% की ब्याज सब्सिडी पाने के लिए पात्र है.

MIG I व MIG II कैटेगरी के लिए:

  • CLSS MIG I के लिए घर की वार्षिक आय रु. 6 लाख से रु. 12 के बीच होनी चाहिए, और CLSS MIG II के लिए रु. 12 से. रु. 18 लाख के बीच होनी चाहिए.
  • प्रॉपर्टी का सह-स्वामित्व महिला के पास अवश्य होना चाहिए.
  • कमाई करने वाले व्यक्ति (चाहे वैवाहिक स्थिति कुछ भी हो) को एक अलग परिवार के रूप में माना जाएगा.

MIG I के अंतर्गत पात्र उम्मीदवार 4% की सब्सिडी प्राप्त कर सकते हैं, जबकि MIG II के अंतर्गत पात्र उम्मीदवार 3% की सब्सिडी प्राप्त कर सकते हैं.

PMAY संबंधी सामान्य प्रश्न

प्रधानमंत्री आवास योजना लिस्ट में नाम चेक करने के तरीके?

PMAY लिस्ट दो अलग-अलग कैटेगरी में उपलब्ध है - शहरी और ग्रामीण. ध्यान दें कि PMAY-ग्रामीण (रूरल) कैटेगरी के अंतर्गत व्यक्तियों को सफलतापूर्वक अप्लाई करने पर रजिस्ट्रेशन नंबर प्राप्त होता है. PMAY-G लिस्ट को चेक करते समय इस नंबर की आवश्यकता होती है.

अगर आप ग्रामीण कैटेगरी में आते हैं, तो नीचे दिए गए चरणों का पालन करें:

चरण 1: PMAY-ग्रामीण की ऑफिशियल वेबसाइट खोलें.
चरण 2: अपना सही रजिस्ट्रेशन नंबर प्रदान करें और 'सबमिट करें’ पर क्लिक करें.

एप्लीकेंट अपने रजिस्ट्रेशन नंबर के बिना भी लाभार्थी लिस्ट चेक कर सकते हैं. इन चरणों का पालन करें:

चरण 1: PMAY-ग्रामीण की ऑफिशियल वेबसाइट पर जाएं.
चरण 2: रजिस्ट्रेशन नंबर टैब को अनदेखा करें और एडवांस्ड सर्च बटन पर क्लिक करें.
चरण 3: सही विवरण के साथ दिखाई देने वाले फॉर्म को भरें.
चरण 4: 'खोजें' विकल्प के साथ आगे बढ़ें.

अगर आपका नाम PMAY-G लिस्ट में मौजूद है, तो सभी संबंधित विवरण दिखाई देंगे.
अगर आप शहरी कैटेगरी में आते हैं, तो नीचे दिए गए चरणों का पालन करें:

चरण 1: PMAY की ऑफिशियल वेबसाइट पर जाएं.
चरण 2: आपको “लाभार्थी खोजें” मेन्यू दिखाई देगा. उसमें 'नाम के अनुसार खोजें' पर क्लिक करें.
चरण 3: अपने नाम के पहले तीन अक्षर प्रदान करें.
चरण 4: 'दिखाएं' बटन पर क्लिक करें, और PM आवास योजना की लिस्ट देखें.

PMAY लिस्ट-शहरी पर अन्य संबंधित विवरणों के साथ अपना नाम देखें. ये लाभार्थी चार्ट समय-समय पर अपडेट किए जाते हैं. इसलिए, नवीनतम PMAY लिस्ट 2018-19 चेक करें.

PMAY के लाभार्थियों की लिस्ट कैसे तैयार की जाती है?

सरकार प्रधानमंत्री आवास योजना लिस्ट 2018–19 में लाभार्थियों की पहचान करने और चुनने के लिए SECC 2011 पर ध्यान देती है. SECC 2011, या सामाजिक आर्थिक जाति जनगणना 2011, भारत में 640 जिलों में आयोजित 1st पेपरलेस जनगणना (जाति-आधारित) है. इसके अलावा, सरकार फाइनल लिस्ट का निर्णय लेने के लिए तहसील और पंचायतों को शामिल करती है.

इसका उद्देश्य पारदर्शिता बनाए रखना और पात्र एप्लीकेंट को यह हाउसिंग लाभ प्रदान करना है.

PMAY स्कीम के लिए अप्लाई करने हेतु कौन पात्र हैं?

जो उम्मीदवार निम्नलिखित PMAY पात्रता मानदंड को पूरा करते हैं, वह इस हाउसिंग स्कीम के लिए अप्लाई करने हेतु पात्र हैं.

  • एप्लीकेंट या उसके परिवार के किसी भी सदस्य के नाम पर भारत में कहीं भी कोई पक्का घर नहीं होना चाहिए.
  • परिवार के किसी भी सदस्य ने पहले सरकार द्वारा शुरू की गई किसी भी हाउसिंग स्कीम का लाभ नहीं लिया हुआ होना चाहिए.
  • विवाहित युगल के लिए संयुक्त और एकल स्वामित्व दोनों की अनुमति है. इस मामले में, दोनों विकल्पों के लिए 1 सब्सिडी ही प्राप्त होगी.
  • एक घर की कुल वार्षिक आय रु. 6 लाख से रु. 18 लाख के भीतर होनी चाहिए. एप्लीकेंट इस प्रोग्राम के लिए अप्लाई करते समय पति/पत्नी का आय डेटा प्रदान कर सकते हैं.
  • जिन लोगों के नाम पर पहले से ही अपना एक घर है, वे PMAY स्कीम का लाभ लेने के लिए पात्र नहीं हैं.
  • निम्न आय वर्ग (LIG), मध्यम आय वर्ग (MIG) और आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग से संबंधित व्यक्ति PMAY के अंतर्गत CLSS के लिए पात्र हैं.

इस स्कीम के अंतर्गत लाभार्थियों को केवल एक नई रेजिडेंशियल प्रॉपर्टी खरीदने या निर्माण करने की अनुमति है.

PM आवास योजना के लाभार्थी कौन हैं?

मुख्य रूप से, निम्नलिखित कैटेगरी इस हाउसिंग स्कीम के सभी लाभों का आनंद ले सकती हैं.

  • आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग
  • महिलाएं (किसी भी जाति या धर्म की)
  • मध्यम आय वर्ग 1
  • मध्यम आय वर्ग 2
  • अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति
  • कम आय वाले लोग

PM आवास योजना प्रोग्राम का यह पूरा प्रोसेस अब ऑनलाइन हो गया है, जिससे यह अधिक पारदर्शी और सुविधाजनक हो गया है. लाभार्थी, प्रोग्राम की ऑफिशियल वेबसाइट से अपना एप्लीकेशन स्टेटस और PMAY लिस्ट आसानी से चेक कर सकते हैं.

PM आवास योजना स्कीम के उद्देश्य क्या हैं?

अनुमान के अनुसार, लाखों रेजिडेंशियल प्रॉपर्टी, जिनकी कीमत लगभग रु. 50 लाख है, अभी भी महानगरीय शहरों में बिकी नहीं हैं. इसके विपरीत, शहरी निम्न वर्ग और ग्रामीण आबादी के लिए लगभग 2 करोड़ हाउसिंग यूनिट्स की कमी है. PM आवास योजना का उद्देश्य इस अंतर को कम करना है. इस PMAY स्कीम के 4 मुख्य पहलू हैं:

  • झुग्गी झोपड़ियों में रहने वाले लोगों के लिए घरों का निर्माण.
  • राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के सहयोग से किफायती हाउसिंग प्रोजेक्ट शुरू करना.
  • आर्थिक रूप से कमजोर और मध्यम आय वर्ग के लोगों के लिए अपनी CLSS स्कीम के साथ होम लोन की ब्याज़ दरों पर सब्सिडी देना.
  • EWS को रु. 1.5 लाख तक की फाइनेंशियल सहायता प्रदान करना.

भारत सरकार ने इन लाभों को विधवाओं, ट्रांसजेंडर व्यक्तियों व इन जैसे उपेक्षित वर्गों तक पहुंचाया है.

1 फरवरी को FY-2019 के बजट सत्र के दौरान, वित्त मंत्री ने इस फ्लैगशिप स्कीम के अंतर्गत अब तक 1.53 करोड़ घरों के निर्माण की पुष्टि की है.

बजाज फिनसर्व के साथ, आप PMAY स्कीम के अंतर्गत होम लोन पर रियायती ब्याज़ दर का आनंद ले सकते हैं. इसके अलावा, विशेष फ्लेक्सी लोन सुविधा का विकल्प चुनें, जो आपको अपनी सुविधा के अनुसार पूर्व-स्वीकृत राशि और प्रीपे राशि से कई निकासी करने अनुमति देती है. ब्याज़ केवल निकाली गई राशि पर लगाया जाता है, कुल मूल पर नहीं, इसलिए, यह आपकी EMI को लगभग आधा कर देता है.

बजाज फिनसर्व द्वारा प्रदान किए गए ऑनलाइन प्रधानमंत्री आवास योजना पात्रता कैलकुलेटर का उपयोग करके अपनी पात्र कैटेगरी के अनुसार अपनी सब्सिडी की राशि चेक करें.