पोस्ट ऑफिस फिक्स्ड डिपॉजिट क्या है?

फिक्स्ड डिपॉजिट बैंकों, नॉन-बैंकिंग फाइनेंशियल कंपनियों (NBFC) और पोस्ट ऑफिस द्वारा प्रदान किए जाने वाले सबसे सुरक्षित इन्वेस्टमेंट विकल्पों में से एक है. पोस्ट ऑफिस फिक्स्ड डिपॉजिट, जिसे पोस्ट ऑफिस टर्म डिपॉजिट भी कहा जाता है, भारतीय डाक सेवाओं द्वारा जारी फिक्स्ड डिपॉजिट है. पोस्ट ऑफिस फिक्स्ड डिपॉजिट भारत सरकार की संप्रभुता गारंटी द्वारा समर्थित हैं. पोस्ट ऑफिस एफडी की ब्याज़ दरें 5.5% प्रति वर्ष – 6.7% प्रति वर्ष तक होती हैं, जो इन्वेस्टर को स्थिर विकास प्रदान करती हैं.

पोस्ट ऑफिस फिक्स्ड डिपॉजिट की दरें 2022

पोस्ट ऑफिस एफडी एक सुरक्षित इन्वेस्टमेंट के लिए पसंदीदा इन्वेस्टमेंट विकल्प है. पोस्ट ऑफिस एफडी भारत सरकार की गारंटी के साथ आते हैं.

पोस्ट ऑफिस फिक्स्ड डिपॉजिट की विशेषताएं इस प्रकार हैं

विवरण

विवरण

अवधि

1, 2, 3 और 5 वर्ष

न्यूनतम डिपॉजिट राशि

रु. 1,000

ब्याज़ दरें

5.5% प्रति वर्ष – 6.7% प्रति वर्ष.

ब्याज़ भुगतान

वार्षिक

भुगतान का तरीका

कैश/चेक

परिपक्वता से पहले निकासी

6 महीनों के बाद अनुमति है*

नामांकन सुविधा;

उपलब्ध है


*अगर अकाउंट खोलने की तिथि से 6 से 12 महीनों के बीच बंद हो जाता है, तो पोस्ट ऑफिस सेविंग अकाउंट की दरें लागू होंगी.

पोस्ट ऑफिस एफडी की ब्याज़ दरें

भारत सरकार (हर तिमाही) छोटी बचत योजनाओं के तहत पोस्ट ऑफिस फिक्स्ड डिपॉजिट की ब्याज़ दरें तय करती है. ये दरें सरकारी प्रतिभूतियों/बिलों के प्रदर्शन के अनुसार निर्धारित की जाती हैं. 5 वर्षों की अवधि के साथ आने वाली एक पोस्ट ऑफिस फिक्स्ड डिपॉजिट में तुलनात्मक सरकारी सिक्योरिटीज़ की यील्ड पर 25 बीपीएस का ब्याज़ दर मार्क-अप होता है.

अवधि (वर्ष)

पोस्ट ऑफिस एफडी की ब्याज़ दरें

1 वर्ष

5.5% वार्षिक.

2 वर्ष

5.5% वार्षिक.

3 वर्ष

5.5% वार्षिक.

5 वर्ष

6.7% वार्षिक.

बजाज फाइनेंस लिमिटेड की एफडी दरों और पोस्ट ऑफिस की लेटेस्ट एफडी ब्याज़ दरों की तुलना यहां दी गई है.

अवधि (वर्ष)

पोस्ट ऑफिस एफडी की ब्याज़ दरें

बजाज फाइनेंस एफडी की ब्याज़ दरें

1 वर्ष

5.5% वार्षिक.

5.85% वार्षिक.

2 वर्ष

5.5% वार्षिक.

6.60% वार्षिक.

3 वर्ष

5.5% वार्षिक.

7.20% वार्षिक.

5 वर्ष

5.7% वार्षिक.

7.20% वार्षिक.

सीनियर सिटीज़न प्रति वर्ष 0.25% तक का अतिरिक्त दर का लाभ प्राप्त कर सकते हैं.

अधिक पढ़ें कम पढ़ें

बजाज फाइनेंस फिक्स्ड डिपॉजिट की विशेषताएं और लाभ

बजाज फाइनेंस द्वारा प्रदान किए जाने वाले विशेषताएं और लाभ इस प्रकार हैं.

ब्याज़ दर

प्रति वर्ष 7.60% तक.

न्यूनतम अवधि

1 वर्ष

अधिकतम अवधि

5 वर्ष

डिपॉजिट राशि

रु. 15,000 का न्यूनतम डिपॉजिट

एप्लीकेशन प्रोसेस

100% ऑनलाइन प्रोसेस

ऑनलाइन भुगतान विकल्प

नेटबैंकिंग और UPI


पोस्ट ऑफिस एफडी: टीडीएस/ टैक्स

पोस्ट ऑफिस एफडी में इन्वेस्ट करने का एक महत्वपूर्ण लाभ यह है कि अर्जित ब्याज़ पर (टीडीएस*) काटा नहीं जाता.

इनकम टैक्स रिटर्न (आईटीआर) दर्ज करते समय, इनकम टैक्स अधिनियम, 1961 के सेक्शन 80सी के तहत कटौती का क्लेम करने के लिए पोस्ट ऑफिस में फिक्स्ड डिपॉजिट के इन्वेस्टमेंट को जोड़ा जा सकता है. आईटी अधिनियम, 1961 के उक्त अनुभाग के तहत कटौती की अधिकतम सीमा प्रत्येक वित्तीय वर्ष में रु. 1.5 लाख होती है.

पोस्ट ऑफिस फिक्स्ड डिपॉजिट बनाम बजाज फाइनेंस फिक्स्ड डिपॉजिट

मान लीजिए कि आप पोस्ट ऑफिस एफडी से अर्जित ब्याज़ को कहीं और इन्वेस्ट करने के बारे में सोच रहे हैं. इस मामले में, आप उच्च उत्पादन वाली कंपनियों में इन्वेस्ट करने के एक वैकल्पिक मार्ग पर विचार कर सकते हैं जो एफडी पर कम जोखिम के साथ इसी तरह की गारंटी प्रदान करते हैं.

हालांकि पोस्ट ऑफिस एफडी बैंक एफडी की तुलना में अधिक ब्याज़ दर प्रदान कर सकती है, लेकिन यह कंपनी एफडी पर दी गई ब्याज़ दर से मेल नहीं खा सकती. आप बजाज फाइनेंस जैसी अच्छी फाइनेंस और लिक्विड कंपनियों द्वारा गारंटीड एफडी पर अधिकतम रिटर्न सुनिश्चित कर सकते हैं. आइए देखें कि आप बजाज फाइनेंस एफडी के साथ और भी लाभ कैसे उठा सकते हैं.

  • इन्वेस्टमेंट दर – बजाज फाइनेंस एफडी प्रति वर्ष 7.60% तक की उच्च ब्याज़ दरें प्रदान करता है, जो अर्थव्यवस्था की वर्तमान स्थिति में किसी अन्य फिक्स्ड-इनकम विकल्प द्वारा दिए गए ब्याज़ से अधिक है. पोस्ट ऑफिस एफडी से प्रति वर्ष अधिकतम 5.7% प्राप्त होता है, जो सरकारी सिक्योरिटीज़ (जी-सेक) की आय गिरती है, तो आगे कम किया जा सकता है.
  • सुविधा – बजाज फाइनेंस एफडी समय से पहले निकासी के लिए सुविधाजनक शर्तें प्रदान करता है (पोस्ट ऑफिस एफडी की तुलना में). यह कम ब्याज़ दर पर एफडी पर लोन लेने का विकल्प भी प्रदान करता है.
  • आसान एक्सेस– हालांकि पोस्ट ऑफिस एफडी आपको कई ऑनलाइन फीचर नहीं दे सकती है, लेकिन आप आसानी से बजाज फाइनेंस ऑनलाइन एफडी में इन्वेस्ट कर सकते हैं जो आपको शुरुआत से अंत तक एक ऑनलाइन पेपरलेस प्रोसेस का लाभ देता है. डोरस्टेप डॉक्यूमेंट पिकअप, मल्टी-डिपॉजिट और ऑटो-रिन्यूअल की अतिरिक्त विशेषताएं इसे और अधिक सुविधाजनक बनाती हैं. आप कुछ लोकेशन्स पर, बस डेबिट कार्ड का उपयोग करके बजाज फाइनेंस ऑनलाइन एफडी अकाउंट खोल सकते हैं.

बजाज फाइनेंस एनआरआई से डिपॉजिट भी स्वीकार करता है, और इन्हें सुरक्षा और स्थिरता के लिए उच्च रैंकिंग और रेटिंग भी प्राप्त है, जिससे यह कम जोखिम क्षमता वाले लोगों के लिए एक सर्वश्रेष्ठ इन्वेस्टमेंट विकल्प बनती है. पोस्ट ऑफिस फिक्स्ड डिपॉजिट और बजाज फाइनेंस फिक्स्ड डिपॉजिट की विशेषताओं की तुलना करने में आपकी मदद करने के लिए, दोनों के बीच के अंतर का विवरण देने वाला एक टेबल यहां दिया गया है:

विशेषता

पोस्ट ऑफिस एफडी

बजाज फाइनेंस एफडी

उच्च ब्याज़ दर

नहीं

हां

त्रैमासिक ब्याज दर संशोधन

हां

नहीं

फ्लेक्सिबल प्री-मेच्योर निकासी

नहीं

हां

ऑनलाइन अकाउंट संचालन

नहीं

हां

मल्टी डिपॉजिट सुविधा

नहीं

नहीं

ऑटो-रिन्यूअल सुविधा

केवल सीबीएस-सक्षम ब्रांच में

हां

एनआरआई एफडी

नहीं

हां


2.46 लाख कस्टमर और 30000 करोड़ से अधिक के डिपॉजिट बुक साइज़ के साथ, न्यूनतम जोखिम पर अधिकतम रिटर्न प्राप्त करने के लिए आप बजाज फाइनेंस एफडी पर विश्वास कर सकते हैं.

सामान्य प्रश्न

पोस्ट ऑफिस एफडी के लिए आवश्यक न्यूनतम बैलेंस क्या है?

पोस्ट ऑफिस एफडी खोलने के लिए न्यूनतम डिपॉजिट राशि रु. 1,000 है.

क्या बेहतर है, पोस्ट ऑफिस एफडी या बैंक एफडी ? पोस्ट ऑफिस एफडी और बैंक एफडी के बीच क्या अंतर है?

पोस्ट ऑफिस एफडी और बैंक एफडी की ब्याज़ दरें, क्रमशः 5.5%-6.7% के बीच और 2.5% से 6.50% के बीच होती हैं.

पोस्ट ऑफिस एफडी अकाउंट खोलने के लिए किन डॉक्यूमेंट की आवश्यकता होती है?

पोस्ट ऑफिस एफडी अकाउंट खोलने के लिए निम्नलिखित डॉक्यूमेंट की आवश्यकता होती है:

आवश्यक डॉक्यूमेंट

पहचान का प्रूफ - आधार कार्ड, वोटर आईडी कार्ड, पैन कार्ड आदि.

एड्रेस प्रूफ - आधार कार्ड, यूटिलिटी बिल (जैसे बिजली बिल, पानी के बिल), राशन कार्ड आदि.

हाल ही में कम से कम 2 पासपोर्ट साइज़ की फोटो

क्या मैं पोस्ट ऑफिस एफडी अकाउंट ऑनलाइन खोल सकता/सकती हूं?

हां, आप पोस्ट ऑफिस द्वारा ऑफर की गई वेब बैंकिंग सुविधा का उपयोग करके ऑनलाइन पोस्ट ऑफिस एफडी में इन्वेस्ट कर सकते हैं.

पोस्ट ऑफिस में 1 लाख की एफडी पर ब्याज क्या है?

वर्तमान भारतीय बाजार में, 1 लाख के फिक्स्ड डिपॉजिट के लिए आम मासिक ब्याज दर प्रति वर्ष 5% से 7.5 प्रतिशत तक हो सकती है. इस प्रकार, हर महीने एक लाख रुपए पर आपका अर्जित ब्याज काफी होगा. वरिष्ठ नागरिक, प्रति माह 1 लाख के फिक्स्ड डिपॉजिट पर अधिक ब्याज़ का लाभ प्राप्त करेंगे.

क्या पोस्ट ऑफिस एफडी में इन्वेस्टमेंट की कोई अधिकतम सीमा है?

पोस्ट ऑफिस एफडी प्रोग्राम में इन्वेस्टमेंट पर कोई अधिकतम सीमा नहीं है. यह ध्यान देने योग्य है कि आप प्रति पोस्ट ऑफिस एफडी अकाउंट में केवल एक डिपॉजिट कर सकते हैं. हालांकि, पोस्ट ऑफिस में आप कई अकाउंट खोल सकते हैं.

क्या मेच्योरिटी से पहले टाइम डिपॉजिट बंद करना संभव है?

हां, आप मेच्योर होने से पहले अपना टाइम डिपॉजिट अकाउंट बंद कर सकते हैं. लेकिन, ऐसा अकाउंट खोलने के 6 महीनों के बाद ही किया जा सकता है.

अधिक पढ़ें कम पढ़ें