डीमैट अकाउंट के लिए पात्रता मापदंड

  • Nationality

    राष्ट्रीयता

    व्यक्ति को भारत का निवासी नागरिक होना चाहिए

  • Age

    उम्र

    व्यक्ति की आयु 18 वर्ष या उससे अधिक होनी चाहिए

डीमैट अकाउंट के लिए आवश्यक डॉक्यूमेंट

डीमैट और ट्रेडिंग अकाउंट खोलने के लिए, आपको ये डॉक्यूमेंट सबमिट करने होंगे:

  • Identity proof

    आइडेंटिटी प्रूफ

    पैन कार्ड अनिवार्य है (यह सुनिश्चित करें कि कार्ड पर आपकी फोटो और हस्ताक्षर दिखाई दे)

  • Address proof (any one of these)

    एड्रेस प्रूफ (इनमें से कोई एक)

    पासपोर्ट, ड्राइविंग लाइसेंस, वोटर आईडी, आधार कार्ड या पिछले 3 महीनों के बैंक अकाउंट स्टेटमेंट

  • Income proof (any one of these)

    इनकम प्रूफ (इनमें से कोई एक)

    6 महीने का बैंक स्टेटमेंट, नेट-वर्थ सर्टिफिकेट, 3 महीने की सैलरी स्लिप, इनकम टैक्स रिटर्न (आईटीआर) स्टेटमेंट, डीमैट होल्डिंग स्टेटमेंट, या होल्डिंग रिपोर्ट

  • Signature on white paper

    सफेद कागज़ पर हस्ताक्षर

    सफेद कागज़ पर हस्ताक्षर करें और इसकी फोटो लें (हस्ताक्षर आपके पैन कार्ड पर उपलब्ध हस्ताक्षर से मेल खाना चाहिए)
  • Bank proof (any one of these)

    बैंक प्रमाण (इनमें से कोई एक)

    कैंसल्ड चेक, पासबुक, पिछले 6 महीनों के बैंक अकाउंट स्टेटमेंट

  • Photograph

    फोटो

    एक पासपोर्ट साइज़ फोटो आवश्यक है

शेयर मार्केट में इन्वेस्ट करने के लिए डीमैट और ट्रेडिंग अकाउंट आवश्यक हैं. डीमैट अकाउंट डिजिटल मोड में शेयर्स को स्टोर करता है और फिज़िकल शेयर सर्टिफिकेट से जुड़े जोखिमों जैसे चोरी, फर्जी कागज़ बनना आदि से होने वाले नुकसान को दूर करता है. बजाज फाइनेंशियल सिक्योरिटीज़ अकाउंट खोलने के लिए 100% डिजिटल प्रोसेस प्रदान करता है, ताकि आप डॉक्यूमेंट्स की सॉफ्ट कॉपी अपलोड कर सकें और उन्हें ऑनलाइन सबमिट कर सकें.

अधिक पढ़ें कम पढ़ें

सामान्य प्रश्न

क्या डीमैट अकाउंट में एड्रेस बदला जा सकता है?

हां, आप डीमैट अकाउंट में अपना एड्रेस बदल सकते हैं. इसके लिए, आपको अकाउंट संशोधन फॉर्म भरना होगा, इस पर हस्ताक्षर करने होंगे और इसके साथ प्रमाण के रूप में आवश्यक डॉक्यूमेंट, अपने डिपॉजिटरी पार्टिसिपेंट (डीपी) को सबमिट करना होगा. बदलाव करने से पहले डीपी अनुरोध को सत्यापित करेंगे.

क्या डीमैट अकाउंट खोलने के लिए आधार कार्ड अनिवार्य है?

डीमैट अकाउंट खोलने के लिए आधार कार्ड अनिवार्य नहीं है. हालांकि, इसे डीमैट अकाउंट खोलते समय एड्रेस प्रूफ के रूप में सबमिट किया जा सकता है. डीमैट अकाउंट खोलने के लिए एड्रेस प्रूफ के रूप में वोटर आईडी कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस, पासपोर्ट, अधिकतम 3 महीने पुराने यूटिलिटी बिल, और पिछले 3 महीनों के बैंक स्टेटमेंट भी सबमिट किए जा सकते हैं.

डीमैट अकाउंट के लिए कौन पात्र है?

कोई भी व्यक्ति जो भारत का निवासी है और जिसकी आयु 18 वर्ष या उससे अधिक है, वह डीमैट अकाउंट खोलने के लिए पात्र है, बशर्ते कि उसके पास पैन कार्ड हो. आपको अपना पैन कार्ड, एड्रेस प्रूफ प्रदान करना होगा, और बैंक अकाउंट रजिस्टर करने के लिए कैंसल किए गए चेक की कॉपी प्रदान करनी होगी. मूल डॉक्यूमेंट ब्रोकरेज (डिपॉजिटरी पार्टिसिपेंट) को दिखाने होंगे.

आय के प्रमाण के बिना डीमैट अकाउंट कैसे खोला जा सकता है?

हां, आप बिना इनकम प्रूफ के डीमैट अकाउंट खोल सकते हैं, क्योंकि यह वैकल्पिक है. डीमैट अकाउंट खोलने के लिए आवश्यक डॉक्यूमेंट यहां दिए गए हैं.

  • PAN कार्ड
  • सत्यापन के लिए एड्रेस का प्रमाण - आपके नाम में बिजली बिल, बैंक अकाउंट, आधार कार्ड आदि.
  • कैंसल्ड चेक या बैंक अकाउंट विवरण की कॉपी

इस प्रकार, चाहे आप गृहिणी हों या नाबालिग हों (इस संबंध में 18 वर्ष की आयु) - आप बिना किसी आय के अपने नाम में डीमैट अकाउंट खोल सकते हैं. हालांकि, पैन कार्ड आपके खर्चों के रिकॉर्ड और टैक्स फाइलिंग रिकॉर्ड को ट्रैक करने के लिए आवश्यक है.

क्या डीमैट अकाउंट के लिए पैन कार्ड अनिवार्य है?

हां, सेबी के निर्देशों के अनुसार डीमैट अकाउंट खोलने के लिए पैन कार्ड आवश्यक है, क्योंकि यह सभी फाइनेंशियल ट्रांज़ैक्शन के लिए अनिवार्य है. इसके अलावा, पैन कार्ड इन्वेस्टर की होल्डिंग और इनकम टैक्स भुगतान को एक विशिष्ट पहचान की मदद से ट्रैक करने का तरीका है. इस प्रकार, अगर आप नाबालिग हों या गृहिणी, आपके पास मान्य पैन कार्ड होना चाहिए, और आप डीमैट अकाउंट खोलकर इन्वेस्ट करना शुरू कर सकते हैं.

क्या डीमैट अकाउंट के लिए कैंसल किया गया चेक अनिवार्य है?

हां, डीमैट अकाउंट खोलने के लिए कैंसल किया गया चेक अनिवार्य है, क्योंकि बेचने के ट्रांज़ैक्शन के लिए बैंक अकाउंट का विवरण आवश्यक है. इसके अलावा, जब आप स्टॉक ऑर्डर करते हैं, तो स्टॉक को एक्सचेंज पर खरीदने से पहले पैसे डेबिट करने की आवश्यकता होती है. इसलिए, इस फॉर्म में अप्रूव्ड कैंसल किए गए चेक से डिपॉजिटरी पार्टिसिपेंट को स्टॉक ट्रांज़ैक्शन के दौरान आपके अकाउंट से फंड डेबिट और क्रेडिट करने की अनुमति मिलती है.

अधिक पढ़ें कम पढ़ें