Home Loan EMI Payment

भूमि कर्नाटक

कृपया अपना पूरा नाम दर्ज़ करें
अपना पूरा नाम दर्ज करें
कृपया अपना 10-अंकों का मोबाइल नंबर दर्ज़ करें
मोबाइल नंबर का स्थान खाली नहीं छोड़ा जा सकता
कृपया अपने आवासीय एड्रेस का पिन कोड दर्ज़ करें
पिन कोड का स्थान खाली नहीं रह सकता
शून्य
शून्य

मैं बजाज फिनसर्व के प्रतिनिधियों को इस एप्लीकेशन और अन्य प्रॉडक्ट/सेवाओं के लिए कॉल/SMS करने के लिए अधिकृत करता/करती हूं. इस सहमति से DNC/NDNC के लिए किया गया मेरा रजिस्ट्रेशन कैंसल हो जाएगा. नियम व शर्तें लागू

कृपया नियम व शर्तें स्वीकार करें
आपके मोबाइल नंबर पर एक OTP भेज दिया गया है

वन टाइम पासवर्ड दर्ज़ करें

0 सेकेंड
गलत मोबाइल नंबर दर्ज़ किया है?
शून्य
निवल मासिक सेलरी दर्ज़ करें
निवल मासिक सेलरी का स्थान खाली नहीं रह सकता
कृपया आवश्यक लोन राशि दर्ज़ करें
शून्य
शून्य
कृपया प्रॉपर्टी की लोकेशन चुनें
शून्य
जन्मतिथि चुनें
अपनी जन्मतिथि चुनें
PAN कार्ड के विवरण दर्ज़ करें
PAN कार्ड का स्थान खाली नहीं रह सकता
लिस्ट में से नियोक्ता का नाम चुनें
व्यक्तिगत ईमेल एड्रेस दर्ज़ करें
पर्सनल ईमेल का स्थान खाली नहीं रह सकता
ऑफिसियल ईमेल एड्रेस दर्ज़ करें
आधिकारिक ईमेल ID का स्थान खाली नहीं रह सकता है
मौजूदा मासिक देनदारियों को दर्ज़ करें
शून्य
शून्य
शून्य
शून्य
शून्य
बिज़नेस विंटेज की वैल्यू चुनें
अपनी मासिक सेलरी दर्ज़ करें
निवल मासिक सेलरी का स्थान खाली नहीं रह सकता
शून्य
कृपया आवश्यक लोन राशि दर्ज़ करें
शून्य
कृपया बैलेंस ट्रांसफर के लिए बैंक चुनें
शून्य
शून्य
प्रॉपर्टी की लोकेशन चुनें
सालाना कारोबार दर्ज़ करें (18-19)
अपना वार्षिक टर्नओवर 17-18 दर्ज करें

धन्यवाद!

भूमि - RTC ऑनलाइन लैंड रिकॉर्ड

भारत सरकार और कर्नाटक सरकार ने राज्य में भूमि के रिकॉर्ड के डिजिटलीकरण और भूमि रजिस्ट्री नियंत्रण को आसान बनाने के लिए संयुक्त रूप से भूमि लैंड रिकॉर्ड प्रोजेक्ट की शुरुआत की थी. इसे वर्ष 2000 में शुरू किया गया था और इसमें एडवांस टेक्नोलॉजी की सहायता से अधिकारों के रिकॉर्ड (RTC), पट्टेदारी और फसलों की जानकारी को उचित ढंग से मेंटेन किया जाता है.

कर्नाटक में, वर्तमान में राज्य की 6,000 ग्राम पंचायतों और 175 तालुकों में भूमि ऑफिस स्थापित किए गए हैं. इन ऑफिसों के माध्यम से राज्य के निवासी RTC के स्वामित्व के लिए अप्लाई कर सकते हैं या उनमें संशोधन करा सकते हैं.

किसानों के लिए भूमि पोर्टल के लाभ


भूमि लैंड रिकॉर्ड पोर्टल राज्य के किसानों को निम्नलिखित तरीकों से लाभान्वित करता है –

  • वे लोन के लिए अप्लाई करने के लिए अपने लैंड रिकॉर्ड की कॉपी आसानी से एक्सेस कर सकते हैं.
  • RTC के माध्यम से उपलब्ध फसलों का डेटा, फसलों को इंश्योर करने और इंश्योरेंस क्लेम करने में मदद करता है.
  • किसान भूमि मालिक का नाम, आवंटित प्लॉट नंबर आदि को सबमिट करके अपनी भूमि RTC कॉपी को प्राप्त कर सकते हैं.
  • वे म्यूटेशन के लिए अनुरोध कर सकते हैं और उत्तराधिकार या भूमि की बिक्री के समय रिकॉर्ड को समायोजित कर सकते हैं.
  • इस पोर्टल की सहायता से वे अपने म्यूटेशन अनुरोध एप्लीकेशन के स्टेटस को भी चेक कर सकते हैं.
  • अगर भूमि को लेकर कोई विवाद होता है, तो किसान अपनी भूमि के ऑनलाइन लैंड रिकॉर्ड को आसानी से एक्सेस कर सकते हैं.

भूमि पोर्टल में कौन सी सर्विसेज़ प्रदान की जाती हैं?


कर्नाटक सरकार इस वेब पोर्टल के माध्यम से निम्न सर्विसेज़ प्रदान करती है.

  • RTC के आई-रिकॉर्ड बनाए रखना
  • RTC से जुड़ी ऑनलाइन जानकारी
  • XML के माध्यम से RTC सत्यापन
  • कोडागू आपदा बचाव
  • म्यूटेशन रजिस्ट्रेशन/स्टेटस/एक्सट्रैक्ट
  • टिप्पन
  • राजस्व नक्शे
  • नागरिक पंजीकरण
  • नागरिक लॉग-इन
  • नई तालुकों की लिस्ट
  • विवाद के मामलों का रजिस्ट्रेशन

भूमि ऑनलाइन के लिए रजिस्टर कैसे करें?

 

नए यूज़र निम्नलिखित कुछ चरणों में आसानी से भूमि लैंड रिकॉर्ड पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं –

  • चरण 1 – भूमि के आधिकारिक लॉग-इन पेज पर जाएं.
  • चरण 2 – इसके बाद, 'अकाउंट बनाएं' पर क्लिक करें’. यह आपको नए साइन-अप पेज पर ले जाएगा.
  • चरण 3 – आधार नंबर, कॉन्टैक्ट नंबर, एड्रेस आदि जैसे पर्सनल विवरण दर्ज करें और कैप्चा के साथ सत्यापित करें.
  • चरण 4 – 'साइन-अप/सबमिट' बटन पर क्लिक करें.
 

यूज़र इन विवरण को सबमिट करके अपने अकाउंट को एक्सेस कर सकते हैं.

भूमि RTC ऑनलाइन कैसे देखें?


रजिस्टर्ड व्यक्ति कुछ आसान चरणों में भूमि पोर्टल के माध्यम से RTC को देख सकते हैं –

  • चरण 1 – भूमि पोर्टल पर लॉग-इन करें.
  • चरण 2 – 'RTC और MR देखें' पर क्लिक करें’.
  • चरण 3 – इसके बाद, सभी आवश्यक विवरणों को दर्ज करें.
  • चरण 4 – 'विवरण प्राप्त करें' पर क्लिक करें.

इसके बाद, आपकी स्क्रीन पर RTC का विवरण दिखाई देगा.

पोर्टल में भूमि ऑनलाइन RTC कैसे प्राप्त करें?


इस पोर्टल के माध्यम से कर्नाटक RTC का लाभ उठाने के लिए, नीचे दिए गए चरणों का पालन करें –

  1. भूमि लैंड रिकॉर्ड की आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं.
  2. यहां 'सर्विसेज़' टैब में, 'i-RTC' पर क्लिक करें’. यह 'i-वॉलेट सर्विसेज़' के होम पेज पर ले जाता है.
  3. यूज़र ID, पासवर्ड और कैप्चा जैसे सभी आवश्यक विवरण दर्ज करें और ऑनलाइन RTC भूमि रिकॉर्ड के पोर्टल पर जाने के लिए 'लॉग-इन' पर क्लिक करें.
  4. इस पेज पर, जिला, गांव, होबली, तालुक और सर्वेक्षण नंबर के साथ 'पुराने वर्ष' या 'वर्तमान वर्ष' जैसे विकल्प चुनें.
  5. RTC रिकॉर्ड को एक्सेस करने के लिए 'विवरण प्राप्त करें' पर क्लिक करें.

कर्नाटक लैंड रिकॉर्ड ऑनलाइन कैसे देखें?


आप निम्नलिखित चरणों द्वारा अपने कर्नाटक लैंड रिकॉर्ड को ऑनलाइन एक्सेस कर सकते हैं –

  • चरण 1 – भूमि लैंड रिकॉर्ड के आधिकारिक पोर्टल (https://rtc.karnataka.gov.in/) पर जाएं.
  • चरण 2 – इसके बाद, 'RTC और MR देखें' पर क्लिक करें.
  • चरण 3 – इसके बाद खुलने वाले पेज पर, सभी आवश्यक जानकारी भरें.
  • चरण 4 – कर्नाटक भूमि लैंड रिकॉर्ड को तुरंत एक्सेस करने के लिए 'विवरण प्राप्त करें' पर क्लिक करें.

भूमि कर्नाटक लैंड रजिस्ट्रेशन प्रोसेस क्या है?


भूमि कर्नाटक के तहत अपनी भूमि को रजिस्टर करने के लिए नीचे दिए गए चरणों का पालन करें.


  1. शुरू करने से पहले आवश्यक स्टाम्प पेपर के साथ सभी आवश्यक डॉक्यूमेंट तैयार रखें.
  2. इन डॉक्यूमेंट्स को अपने क्षेत्र के सब-रजिस्ट्रार के पास सबमिट करें.
  3. डॉक्यूमेंट सत्यापन के बाद; भूमि रजिस्ट्रेशन के लिए निर्धारित शुल्क का भुगतान करें और रसीद प्राप्त करें.
  4. साथ ही, उस जगह पर लिए गए फोटो को सबमिट करें.
  5. इसके बाद, संबंधित भूमि के खरीदार और विक्रेता दोनों को गवाह की उपस्थिति में मौखिक सहमति देनी होगी.
  6. इसके बाद, भूमि के डॉक्यूमेंट रजिस्टर्ड माने जाएंगे और एक नंबर अलॉट किया जाएगा.
 

इस प्रकार रजिस्ट्रेशन प्रोसेस पूरा हो जाएगा. इसके बाद, व्यक्तियों को इस बिक्री के बारे में संबंधित पटवारी को भी सूचित करना होगा, जो अधिकारों के रिकॉर्ड या जमाबंदी रजिस्टर में इसे दर्ज करेंगे.

भूमि पोर्टल से म्यूटेशन रिपोर्ट कैसे प्राप्त करें?


भूमि ऑनलाइन RTC पोर्टल के यूज़र निम्नलिखित प्रोसेस के माध्यम से वेबसाइट से अपनी म्यूटेशन रिपोर्ट प्राप्त कर सकते हैं –

  1. भूमि के आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं और 'RTC और MR देखें' विकल्प पर क्लिक करें’.
  2. इसके अंतर्गत, 'म्यूटेशन रिपोर्ट' पर क्लिक करें’.
  3. जिले का नाम, गांव, होबली, सर्वे नंबर, हिस्सा नंबर, सर्नोक नंबर जैसे विवरण दर्ज करें.
  4. इसके बाद, म्यूटेशन रिपोर्ट निकालने के लिए 'विवरण प्राप्त करें' पर क्लिक करें.

भूमि से संबंधित विवादित केस की रिपोर्ट ऑनलाइन कैसे देखें?


भूमि मालिक ई-भूमि रिकॉर्ड के माध्यम से किसी भी समय अपनी भूमि के विरुद्ध किए गए किसी भी विवाद से जुड़े मामले को देख सकते हैं. ऐसा करने के लिए निम्नलिखित चरणों का पालन करें –

  1. चरण 1 – 'भूमि विवाद केस रिपोर्ट' के लिए होमपेज पर जाएं.
  2. चरण 2 – भूमि रिपोर्ट के माध्यम से विवादों का रिकॉर्ड प्राप्त करने के लिए तालुक और जिला आदि के विवरण दर्ज करने के बाद 'रिपोर्ट प्राप्त करें' विकल्प पर क्लिक करें.

भूमि कर्नाटक के लिए लागू डॉक्यूमेंट, फीस और शुल्क


भूमि कर्नाटक के तहत सर्विसेज़ और डॉक्यूमेंट का लाभ उठाने के लिए यूज़र को निर्धारित शुल्क का भुगतान भी करना होगा.

देय फीस में शामिल हैं –

  • RTC भूमि – रु.10
  • टिप्पन – ₹15
  • म्यूटेशन रिपोर्ट – रु.15
  • म्यूटेशन स्टेटस – रु.15

लैंड रिकॉर्ड को आसानी से एक्सेस करने के अलावा, लोग भूमि ऑनलाइन परिहार सर्विसेज़ का भी उपयोग कर सकते हैं और आधार से लिंक भुगतान माध्यम के साथ डायरेक्ट बेनिफिट ट्रांसफर का लाभ उठा सकते हैं.

भूमि RTC के बारे में अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न

रेवेन्यू मैप क्या है?

भूमि लैंड रिकॉर्ड के तहत रेवेन्यू मैप में भूमि के विभाजन और क्षेत्र जैसे विवरण होते हैं.

प्रॉपर्टी का म्यूटेशन क्या है?

प्रॉपर्टी के म्यूटेशन का अर्थ है बिक्री, उत्तराधिकार, विभाजन, उपहार, डीड आदि के माध्यम से मौजूदा मालिक द्वारा प्रॉपर्टी का स्वामित्व नए मालिक को ट्रांसफर करना.

भूमि RTC क्या है?

भूमि RTC कर्नाटक राज्य में अधिकारों के रिकॉर्ड, पट्टेदारी और फसलों की जानकारी को दर्शाता है.

म्यूटेशन रिपोर्ट स्टेटस कैसे देखें?

म्यूटेशन रिपोर्ट के स्टेटस को देखने के लिए नीचे दिए गए चरणों का पालन करें –

  • भूमि पोर्टल के होमपेज पर जाएं और 'सर्विसेज़' के तहत, 'RTC और MR देखें' का विकल्प चुनें’.
  • इसके बाद, 'भूमि ऑनलाइन म्यूटेशन स्टेटस' पर जाने के लिए 'म्यूटेशन सर्विसेज़' चुनें’.
  • जिले का नाम, होबली, तालुक, हिस्सा नंबर, सर्नोक नंबर, सर्वे नंबर आदि जैसे विवरण दर्ज करें.
  • म्यूटेशन रिपोर्ट का स्टेटस देखने के लिए 'विवरण प्राप्त करें' पर क्लिक करें.

अपनी भूमि के लिए रेवेन्यू मैप ऑनलाइन कैसे पाएं?

निम्नलिखित चरणों की सहायता से आप रेवेन्यू मैप को प्राप्त कर सकते हैं –

  1. भूमि के ऑनलाइन पोर्टल पर जाएं और 'सर्विसेज़' के तहत 'रेवेन्यू मैप' पर क्लिक करें’.
  2. जिला, होबली, तालुक, मैप का प्रकार जैसे विवरण दर्ज करें और 'खोजें' पर क्लिक करें’.
  3. अपने रेवेन्यू मैप को एक्सेस करने के लिए गांवों की लिस्ट के आगे बने PDF आइकॉन पर क्लिक करें.