Home Loan EMI Payment
कृपया अपना पूरा नाम दर्ज़ करें
अपना पूरा नाम दर्ज करें
कृपया अपना 10-अंकों का मोबाइल नंबर दर्ज़ करें
मोबाइल नंबर का स्थान खाली नहीं छोड़ा जा सकता
कृपया अपने आवासीय एड्रेस का पिन कोड दर्ज़ करें
पिन कोड का स्थान खाली नहीं रह सकता
शून्य
शून्य

मैं बजाज फिनसर्व के प्रतिनिधियों को इस एप्लीकेशन और अन्य प्रॉडक्ट/सेवाओं के लिए कॉल/SMS करने के लिए अधिकृत करता/करती हूं. इस सहमति से DNC/NDNC के लिए किया गया मेरा रजिस्ट्रेशन कैंसल हो जाएगा. नियम व शर्तें लागू

कृपया नियम व शर्तें स्वीकार करें
आपके मोबाइल नंबर पर एक OTP भेज दिया गया है

वन टाइम पासवर्ड दर्ज़ करें

0 सेकेंड
गलत मोबाइल नंबर दर्ज़ किया है?
शून्य
निवल मासिक सेलरी दर्ज़ करें
निवल मासिक सेलरी का स्थान खाली नहीं रह सकता
कृपया आवश्यक लोन राशि दर्ज़ करें
शून्य
शून्य
कृपया प्रॉपर्टी की लोकेशन चुनें
शून्य
जन्मतिथि चुनें
अपनी जन्मतिथि चुनें
PAN कार्ड के विवरण दर्ज़ करें
PAN कार्ड का स्थान खाली नहीं रह सकता
लिस्ट में से नियोक्ता का नाम चुनें
व्यक्तिगत ईमेल एड्रेस दर्ज़ करें
पर्सनल ईमेल का स्थान खाली नहीं रह सकता
ऑफिसियल ईमेल एड्रेस दर्ज़ करें
आधिकारिक ईमेल ID का स्थान खाली नहीं रह सकता है
मौजूदा मासिक देनदारियों को दर्ज़ करें
शून्य
शून्य
शून्य
शून्य
शून्य
बिज़नेस विंटेज की वैल्यू चुनें
अपनी मासिक सेलरी दर्ज़ करें
निवल मासिक सेलरी का स्थान खाली नहीं रह सकता
शून्य
कृपया आवश्यक लोन राशि दर्ज़ करें
शून्य
कृपया बैलेंस ट्रांसफर के लिए बैंक चुनें
शून्य
शून्य
प्रॉपर्टी की लोकेशन चुनें
सालाना कारोबार दर्ज़ करें (18-19)
अपना वार्षिक टर्नओवर 17-18 दर्ज करें

धन्यवाद!

RGRHCL: ओवरव्यू

भारत के निवासियों, विशेष रूप से आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग को किफायती घर उपलब्ध कराने के लिए, केंद्र और राज्य सरकार, दोनों ने कई हाउसिंग स्कीम शुरू की हैं और RGRHCL जैसे निकायों को विनियमित किया है.

किसी भी अन्य हाउसिंग स्कीम की तरह, RGRHCL के प्रोग्राम का लाभार्थी बनने के लिए, व्यक्तियों को कुछ नियमों और शर्तों को पूरा करना होगा. लाभार्थी बनने के प्रोसेस के बारे में जानकारी होने से प्रोसेस को सुव्यवस्थित करने में मदद मिलती है.

RGRHCL क्या है?

राजीव गांधी ग्रामीण आवास निगम लिमिटेड या RGRHCL, कर्नाटक में EWS को किफायती हाउसिंग पाने में मदद करता है. इस प्राधिकरण को 2000 में शुरू किया गया था. यह प्राधिकरण उन पात्र परिवारों की लिस्ट बनाता है, जो इस हाउसिंग स्कीम से लाभ उठा सकते हैं. RGRCHL लाभार्थियों की नई लिस्ट को संबंधित ग्राम सभा द्वारा मंजूरी दी जाती है.

यह विशेष प्राधिकरण, उन लाभार्थियों की मदद करता है, जो घर बनाना चाहते हैं. यह प्राधिकरण, 'निर्मिति केंद्रास' के माध्यम से किफायती टेक्नोलॉजी का उपयोग करके घर बनाने में सहायता प्रदान करता है.

RGRHCL-हाउसिंग स्कीम

ये हाउसिंग स्कीम RGRHCL के अंतर्गत आती हैं–

बसवा हाउसिंग स्कीम

यह स्कीम, ग्रामीण क्षेत्रों में रहने वाले बेघर लाभार्थियों को आवास प्रदान करती है. यह स्कीम पात्र एप्लीकेंट को, उनके घरों के निर्माण के लिए 85% कच्चे माल तक की सहायता प्रदान करती है.

देवराज URS हाउसिंग स्कीम

विशेष कैटेगरी के व्यक्ति, इस हाउसिंग स्कीम के तहत सहायता प्राप्त कर सकते हैं. आमतौर पर, इन कैटेगरी के एप्लीकेंट इस स्कीम के लिए लाभार्थी बन सकते हैं –

  • शारीरिक रूप से अक्षम
  • HIV-प्रभावित घर
  • जिसका कुष्ठ रोग ठीक हो गया हो
  • सफाई कर्मचारी
  • नोमैडिक जनजातियां
  • मुफ्त बंधुआ मजदूर
  • विधवा महिला
  • ट्रांसजेंडर
  • दंगों से प्रभावित होने वाले लोग

जिला समिति इस स्कीम के लाभार्थियों को चुनती है.

डॉ BR आंबेडकर निवास योजना

डॉ. BR अम्बेडकर निवास योजना के तहत ग्रामीण और शहरी क्षेत्रों के बेघर लोगों को घर प्रदान किया जाता है. इस स्कीम के तहत, अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति की कैटेगरी के पात्र एप्लीकेंट ₹1.75 लाख प्राप्त करने के लिए पात्र हैं. सब्सिडी के रूप में मिलने वाली इस राशि का इस्तेमाल घर खरीदने या उसे बनाने के लिए किया जा सकता है.

आश्रय क्या है?

आश्रय, RGRHCL का ऑफिशियल ऑनलाइन पोर्टल है. इसे, कर्नाटक के निवासियों के लिए किफायती हाउसिंग स्कीम के एप्लीकेशन को आसान बनाने के लिए शुरू किया गया.

इस पोर्टल के माध्यम से, लोग RGRHCL के तहत किसी भी हाउसिंग स्कीम के एप्लीकेशन फॉर्म को आसानी से भर सकते हैं. वे इस वेब पोर्टल पर लाभार्थी की लिस्ट देखने के साथ-साथ अपने एप्लीकेशन का RGRHCL स्टेटस भी देख सकते हैं.

यह पोर्टल मौजूदा और भविष्य की हाउसिंग स्कीम के बारे में भी जानकारी प्रदान करता है. आप आश्रय पोर्टल पर, नई स्कीम के तहत पूरे किए गए घरों की संख्या और भूमि की उपलब्धता के बारे में आसानी से डेटा एक्सेस कर सकते हैं.

इसके अलावा, RGRHCL के सभी प्रोसेस को आसान बनाने के लिए, कर्नाटक के निवासियों को पहले से सभी चरणों के बारे में अवश्य जानकारी रखनी चाहिए. इससे आपको परेशानी नहीं होगी और आश्रय योजना प्रोसेस को समय पर पूरा करने में मदद मिलेगी.

बसव वस्ती योजना: उद्देश्य

बसवा वास्ती योजना, कर्नाटक सरकार द्वारा शुरू किया गया एक हाउसिंग प्रोग्राम है, जिसका उद्देश्य राज्य के EWS या आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग को किफायती घर प्रदान करना है.

इस पहल के प्राथमिक उद्देश्य इस प्रकार हैं –

  • पूरे कर्नाटक में EWS के लिए, किफायती घरों की संख्या में बढ़ोतरी.
  • किफायती हाउसिंग सेक्टर और मैनेजमेंट में पारदर्शिता और कुशलता को बढ़ावा देना.
  • 'निर्मिति केंद्रास' और अन्य इकाइयों को मज़बूत बनाकर ग्रामीण क्षेत्रों में निर्माण की किफायती टेक्नोलॉजी की सुविधा प्रदान करना.

बसव वस्ती योजना के लाभार्थी

जो लोग बसवा वास्ती योजना के पात्रता मानदंडों को पूरा करते हैं, वे इस किफायती हाउसिंग स्कीम के लाभार्थी बन सकते हैं –

  • एप्लीकेंट को कर्नाटक का नागरिक होना चाहिए.
  • एप्लीकेंट की वार्षिक आय ₹32000 से अधिक नहीं होनी चाहिए.

इन बेसिक मानदंडों के अलावा, एप्लीकेंट को इस स्कीम का लाभार्थी बनने के लिए कुछ डॉक्यूमेंट सबमिट करने होंगे. इन डॉक्यूमेंट में शामिल हैं - आयु, आय और एड्रेस के फ्रूफ, आधार कार्ड और पासपोर्ट साइज़ की फोटो.

बसव वस्ती योजना के लिए अप्लाई करने का प्रोसेस

आप कुछ आसान चरणों का पालन करके बसवा वास्ती योजना के एप्लीकेशन के लिए ऑनलाइन प्रोसेस शुरू कर सकते हैं. ये चरण निम्न हैं –

  • चरण 1- RGRHCL की आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं.
  • चरण 2- एप्लीकेशन लिंक पर जाएं और क्लिक करें.
  • चरण 3- आपको एप्लीकेशन फॉर्म पेज पर ले जाया जाएगा.
  • चरण 4- फॉर्म भरने के लिए एप्लीकेंट का नाम, जन्मतिथि, लिंग, संपर्क जानकारी, आय का विवरण, ज़िला, गांव जैसे आवश्यक विवरण प्रदान करें.
  • चरण 5- आधार कार्ड, इनकम सर्टिफिकेट आदि सहित आवश्यक डॉक्यूमेंट को स्कैन और अपलोड करें.
  • चरण 6- विवरण सत्यापित करें और 'सबमिट करें' बटन पर क्लिक करें.

इन चरणों को पूरा करने के बाद, रेफरेंस ID जनरेट हो जाएगी. आप इसका उपयोग बसवा वास्ती एप्लीकेशन स्टेटस देखने के लिए कर सकते हैं. ध्यान दें कि लाभार्थी को स्थानीय MLA या ग्राम पंचायत अधिकारी द्वारा चुना जाता है.

बसव वस्ती योजना का लाभार्थी का स्टेटस कैसे देखा जा सकता है?

इन चरणों का पालन करके, बसव वस्ती योजना के लाभार्थी स्टेटस की लिस्ट देखें –

  • चरण 1- RGRHCL के आधिकारिक पोर्टल पर जाएं.
  • चरण 2- सबसे ऊपर मेन्यू पर जाएं और 'लाभार्थी की जानकारी' पर क्लिक करें.
  • चरण 3- आपको एक नए पेज पर ले जाया जाएगा, वहां ज़िला और पावती नंबर चुनें.

इन चरणों को पूरा करने के बाद, बसव वस्ती योजना का स्टेटस और लाभार्थियों की लिस्ट स्क्रीन पर दिखाई देगी.

इन सबके अलावा, कोई भी व्यक्ति आश्रय के तहत मिलने वाली ग्रांट से संबंधित विवरण को तुरंत देख सकते हैं. आपको केवल पोर्टल पर जाना होगा और अपने क्षेत्र का नाम दर्ज करना होगा. इसके बाद, आपको RGRHCL की जानकारी एक्सेस करने के लिए, 'ग्रांट रिलीज' सेक्शन में जाकर वर्ष, सप्ताह और रेफरेंस नंबर चुनना होगा.

30 वर्ष तक की सुविधाजनक अवधि और कम ब्याज़ दर पर 3.5 करोड़ तक के हाउसिंग लोन के लिए अप्लाई करें. न्यूनतम डॉक्यूमेंटेशन के साथ तुरंत अप्रूवल पाएं.

क्या आप जानते हैं, अच्छा सिबिल स्कोर लोन और क्रेडिट कार्ड पर बेहतर डील प्राप्त करने में आपकी मदद कर सकता है?