How to apply mudra loan

  1. होम
  2. >
  3. बिज़नेस लोन
  4. >
  5. कार्यशील पूंजी के विभिन्न प्रकार क्या हैं

विभिन्न प्रकार की कार्यशील पूंजी कौन-सी हैं?

तुरंत अप्लाई करें

मात्र 60 सेकेंड में अप्लाई करें

कृपया PAN के अनुसार अपना पूरा नाम दर्ज़ करें
10 अंकीय मोबाइल नंबर दर्ज़ करें
कृपया अपनी जन्मतिथि दर्ज़ करें
कृपया मान्य PAN कार्ड नंबर दर्ज़ करें
कृपया अपना पिनकोड दर्ज़ करें
व्यक्तिगत ईमेल एड्रेस दर्ज़ करें

मैं नियम व शर्तों को स्वीकार करता हूं और बजाज फाइनेंस लिमिटेड, उसके प्रतिनिधियों/ बिज़नेस पार्टनर/ सहयोगियों को प्रमोशनल कम्युनिकेशन/ सर्विसेज़ की पूर्ति के लिए मेरे विवरण का उपयोग करने के लिए अधिकृत करता/करती हूं.

धन्यवाद!

विभिन्न प्रकार की कार्यशील पूंजी कौन-सी हैं?

विभिन्न प्रकार की कार्यशील पूंजी शामिल है –

1 स्थायी कार्यशील पूंजी
इसे फिक्स्ड कार्यशील पूंजी या हार्ड कोर कार्यशील पूंजी के रूप में भी जाना जाता है. प्रत्येक बिज़नेस को कार्यशील पूंजी के रूप में एक निश्चित राशि अवश्य आवंटित करनी चाहिए. उपलब्ध पूंजी इस सीमा से कम नहीं होनी चाहिए. कार्यशील पूंजी के इस न्यूनतम लेवल को स्थायी या नियत कार्यशील पूंजी कहा जाता है.

2 अस्थायी कार्यशील पूंजी
निवल कार्यशील पूंजी और स्थायी कार्यशील पूंजी के बीच के अंतर को अस्थायी या परिवर्तनीय कार्यशील पूंजी कहा जा सकता है. बिज़नेस के संचालन में बदलाव और बाजार की स्थितियों के अनुसार इसे वेरिएबल या उतार-चढ़ाव वाली कार्यशील पूंजी भी कहा जाता है. साथ ही, यह बिज़नेस की कुल बिक्री या प्रोडक्शन से भी संबंधित होता है.

3. सकल और निवल कार्यशील पूंजी
वर्तमान एसेट के लिए आवंटित बिज़नेस इन्वेस्टमेंट में सकल कार्यशील पूंजी. इन एसेट को बिज़नेस के ऑपरेटिंग साइकिल के भीतर कन्वर्ट करना आसान है.
बिज़नेस की निवल कार्यशील पूंजी सकल कार्यशील पूंजी और वर्तमान देनदारियों के बीच का अंतर होती है.

4 नेगेटिव कार्यशील पूंजी
गणना के बाद निवल कार्यशील पूंजी या तो बढ़ती है या उसमें कमी होती है. कमी या घाटे को नेगेटिव कार्यशील पूंजी के रूप में जाना जाता है जो वर्तमान एसेट पर बढ़ी हुई मौजूदा देनदारियों के रूप में दिखती है.
 

5. कार्यशील पूंजी को रिजर्व करें
कार्यशील पूंजी के विभिन्न प्रकारों में रिजर्व कार्यशील पूंजी एक ऐसा फंड है जिसे किसी भी बिज़नेस में आवश्यक कार्यशील पूंजी के अलावा अलग से रिज़र्व रखा जाता है. बिज़नेस इस तरह के फंड का इस्तेमाल अनपेक्षित मार्केट स्थितियों से निपटने या अवसरों को भुनाने में करते हैं.

6 नियमित कार्यशील पूंजी
य​ह एक बिज़नेस को अपने दैनिक संचालन के लिए आवश्यक न्यूनतम कार्यशील पूंजी होती है. कंपनियों को सतत संचालन के लिए नियमित कार्यशील पूंजी के उपयुक्त स्तर बनाए रखना चाहिए.

7. सीज़नल कार्यशील पूंजी
प्रॉडक्ट के उत्पादन या निर्माण में शामिल बिज़नेस या मौसमी मांग से प्रभावित होने वाली सेवाएं प्रदान करने के लिए मौसमी कार्यशील पूंजी को बनाए रखने की आवश्यकता होती है. केवल बाज़ार में मौसमी उतार-चढ़ाव को समझने के लिए इसे रिज़र्व कार्यशील पूंजी के रूप में माना जा सकता है.

8. विशेष कार्यशील पूंजी
विशेष कार्यशील पूंजी, बिज़नेस डेवलपमेंट और इसी तरह के अन्य कार्यों के लिए फंड प्रदान करती है. WC संबंधित समस्या की आवश्यकता के आधार पर निर्धारित की जाती है.
आवश्यक कार्यशील पूंजी के प्रकार के आधार पर, कंपनी बिज़नेस की परिचालन दक्षता को अधिकतम करने के लिए कार्यशील पूंजी लोन के रूप में अतिरिक्त फाइनेंस का विकल्प चुन सकती है.
बजाज फिनसर्व न्यूनतम पात्रता और आवश्यकता के साथ रु. 45 लाख तक का कार्यशील पूंजी लोन प्रदान करता है. आकर्षक ब्याज़ दर और अन्य सुविधाएं इसे आसान विकल्प बनाती हैं.
तेज़ अप्रूवल और डिस्बर्सल का आंनद लेने के लिए आज ही बजाज फिनसर्व के कार्यशील पूंजी लोन के लिए अप्लाई करें.

MSME क्या है?

MSME का मतलब है माइक्रो, स्मॉल एंड मीडियम एंटरप्राइज (सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम). इसे भारत सरकार द्वारा सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम विकास (MSMED) के 2006 के अधिनियम के साथ जारी किया गया था. इस अधिनियम के अनुसार, MSME माल और वस्तुओं के उत्पादन, प्रोसेसिंग या संरक्षण करने वाले उद्यम हैं. आर्थिक विकास के लिए महत्वपूर्ण, यह क्षेत्र देश के GDP में से लगभग तैंतीस प्रतिशत का योगदान करता है और लगभग 110 मिलियन की आबादी के लिए रोजगार पैदा करता है.

भारत में MSME

यह देश के सामाजिक व आर्थिक विकास में भी महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है क्योंकि इनमें से कई बिज़नेस ग्रामीण क्षेत्रों में काम करते हैं. सरकार की 2018-2019 की वार्षिक रिपोर्ट के अनुसार, देश में 6 लाख से अधिक MSME मौजूद हैं.

शुरूआती दौर में, MSME को दो कारकों के आधार पर वर्गीकृत किया जाता था - प्लांट/मशीनरी में इन्वेस्टमेंट और बिज़नेस का वार्षिक टर्नओवर. लेकिन, सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम मंत्रालय ने हाल ही में इन दोनों कारकों को एक में ही जोड़कर वर्गीकरण को बदल दिया है.

मुद्रा लोन क्या है?

मुद्रा लोन गैर-कृषि और गैर-कॉर्पोरेट सूक्ष्म और लघु उद्यमों को प्रधानमंत्री मुद्रा योजना (PMMY) के तहत प्रदान किया जाता है. ये उद्यम मुद्रा (माइक्रो यूनिट डेवलपमेंट एंड रिफाइनेंस एजेंसी लिमिटेड) स्कीम के तहत रु. 10 लाख तक के लोन प्राप्त कर सकते हैं.

डिस्क्लेमर:
हमने इस समय इस प्रॉडक्ट (मुद्रा लोन) को बंद कर दिया है. हमारे द्वारा प्रदान की जाने वाली मौजूदा फाइनेंशियल सर्विसेज़ के बारे में अधिक जानकारी के लिए कृपया +91-8698010101 पर हमसे संपर्क करें.

प्रधानमंत्री मुद्रा लोन योजना की विशेषताएं:

शिशु के तहत लोन राशि रु. 50,000 तक
तरुण के तहत लोन राशि रु. 50,001 से रु. 500,000 तक
किशोर के तहत लोन राशि रु. 500,001 से रु. 10,00,000 तक
प्रोसेसिंग शुल्क तरुण लोन के लिए 0.5%, अन्य के लिए शून्य
पात्रता मानदंड नई और मौजूदा यूनिट
पुनर्भुगतान अवधि 3-5 वर्ष

प्रधानमंत्री मुद्रा लोन स्कीम के अंतर्गत 3 प्रॉडक्ट हैं:

1 शिशु
मुद्रा लोन स्कीम के तहत शिशु उन उद्यमियों को रु. 50,000 तक प्रदान करता है जिनका बिज़नेस या तो आरंभिक अवस्था में है या वे कोई बिज़नेस शुरू करना चाहते हैं.
चेकलिस्ट
  • मशीनरी कोटेशन और खरीदी जाने वाली अन्य वस्तुए.
  • खरीदी जाने वाली मशीनरी का विवरण.
उधारकर्ताओं को मशीनरी आपूर्तिकर्ता का विवरण भी देना होगा.

 

अन्य लोकप्रिय प्रॉडक्ट के बारे में जानें

Machinery Loan

मशीनरी लोन

उपकरणों को अपग्रेड करने के लिए रु. 45 लाख तक पाएं | EMI के रूप में केवल ब्याज़ का भुगतान करें

अधिक जानें
Flexi Business Loan

फ्लेक्सी लोन कन्वर्ज़न

अपने मौजूदा लोन को बदलें | 45% तक कम EMI का भुगतान करें*

अधिक जानें
Working Capital Loan People Considered Image

कार्यशील पूंजी लोन

आपके दैनिक ऑपरेशन्स मैनेज करने के लिए ₹45 लाख तक पाएं | सुविधाजनक अवधि के विकल्प

अधिक जानें
Business Loan for Women People Considered Image

महिलाओं के लिए बिज़नेस लोन

रु. 45 लाख तक की राशि पाएं | न्यूनतम डॉक्यूमेंटेशन

अधिक जानें