SME क्या है?

2 मिनट का आर्टिकल

एसएमई का अर्थ लघु और मध्यम आकार वाले उद्यमों से है. ये एक निश्चित सीमा से कम इन्वेस्टमेंट, टर्नओवर और वर्कफोर्स वाले बिज़नेस होते हैं. भारत में, एसएमई में विनिर्माण और सेवा दोनों प्रकार के उद्यम शामिल हैं. छोटे और मध्यम उद्यमों को वार्षिक टर्नओवर और संयंत्र और मशीनरी या उपकरणों में निवेश के संयुक्त मानदंडों के आधार पर वर्गीकृत किया जाता है.

कंपनियों का वर्गीकरण

इन्वेस्टमेंट सीमा

टर्नओवर सीमा

स्मॉल एंटरप्राइज

रु. 1 करोड़ से रु. 10 करोड़ के बीच

रु. 5 करोड़ से रु. 50 करोड़ के बीच

मीडियम एंटरप्राइज

रु. 50 करोड़ से अधिक नहीं

रु. 250 करोड़ से अधिक नहीं

कोई भी एसएमई मालिक जो अपने बिज़नेस को बढ़ाने के लिए पूंजी जुटाना चाहता है, बजाज फिनसर्व से एसएमई लोन का लाभ उठा सकता है और आसान पात्रता शर्तों और न्यूनतम डॉक्यूमेंटेशन के साथ रु. 50 लाख तक का फंडिंग प्राप्त कर सकता है.

अधिक पढ़ें कम पढ़ें