How to apply mudra loan

  1. होम
  2. >
  3. बिज़नेस लोन
  4. >
  5. कार्यशील पूंजी पॉलिसी के प्रकार क्या हैं

कार्यशील पूंजी नीतियों के विभिन्न प्रकार क्या हैं?

तुरंत अप्लाई करें

मात्र 60 सेकेंड
में अप्लाई करें

कृपया अपना प्रथम और अंतिम नाम दर्ज़ करें
10 अंकीय मोबाइल नंबर दर्ज़ करें
कृपया अपनी जन्मतिथि दर्ज़ करें
कृपया मान्य PAN कार्ड नंबर दर्ज़ करें
कृपया अपना पिनकोड दर्ज़ करें
व्यक्तिगत ईमेल एड्रेस दर्ज़ करें

मैं नियम व शर्तों को स्वीकार करता हूं और बजाज फाइनेंस लिमिटेड, उसके प्रतिनिधियों/ बिज़नेस पार्टनर/ सहयोगियों को प्रमोशनल कम्युनिकेशन/ सर्विसेज़ की पूर्ति के लिए मेरे विवरण का उपयोग करने के लिए अधिकृत करता/करती हूं.

धन्यवाद!

कार्यशील पूंजी नीतियों के विभिन्न प्रकार क्या हैं?

कार्यशील पूंजी की गणना और प्रबंधन करते समय कुछ पॉलिसी में जरूर इन्वेस्ट करना चाहिए. सबसे अधिक पसंद की जाने वाली कार्यशील पूंजी पॉलिसी निम्न हैं:

1. एग्रेसिव पॉलिसी
यह पॉलिसी, जैसा कि नाम से पता चलता है, उच्च जोखिम वाली पॉलिसी है. जोखिम होने के कारण, रिटर्न भी अधिक होता है. इसका पालन करने के लिए, किसी बिज़नेस को अपने मौज़ूदा एसेट या उसके बकाया क़र्ज़ की राशि को कम करना चाहिए.

यहां, अब कोई डेब्टर नहीं हैं- तो भुगतान समय पर एकत्र किए जाते हैं और अंततः बिज़नेस में इन्वेस्ट कर दिए जाते हैं. लेनदारों को भुगतान करने में अधिकतम संभव देरी की जाती है. ऐसा करने से, कभी-कभी कंपनी को अपना क़र्ज़ चुकाने के लिए असेट्स बेचने के लिए मजबूर होना पड़ सकता है.

इस प्रकार की कार्यशील पूंजी पॉलिसी का अनुसरण ज्यादातर कंपनियां तेज वृद्धि के लिए करती हैं.

2. कंज़रवेटिव पॉलिसी
आमतौर पर कम जोखिम लेने वाले बिज़नेस ऐसी पॉलिसी के प्रति झुकाव रखते हैं. इस पॉलिसी में, एक विशिष्ट राशि तक की क्रेडिट लिमिट पहले से निर्धारित की जाती है. इसके अलावा, ऐसी पॉलिसीज किसी भी ऐसे डेब्टर, जो पहले डिफॉल्टर रह चुका है, के साथ क्रेडिट पर बिज़नेस करने से बचती हैं.

आम तौर पर, परम्परागत रूप से कार्यशील पूंजी पॉलिसी का पालन कंपनी के एसेट और देनदारियों के बीच सामंजस्य बनाए रखने के लिए किया जाता है, ताकि अचानक ज़रूरत पड़ने पर एसेट के मूल्य संतुलित रहें.

3. मैचिंग पॉलिसी
यह कार्यशील पूंजी मैनेजमेंट पॉलिसी और कार्यशील पूंजी फाइनेंसिंग पॉलिसी के बीच एक कड़ी का काम करता है.

बिज़नेस आमतौर पर इस पॉलिसी का पालन करते हैं कि, उनकी कार्यशील पूंजी कम हो; ताकि वे धन का अन्यत्र उपयोग या इन्वेस्टमेंट कर सकें.

यहां, बैलेंस शीट में करंट असेट्स को करंट देयता के समान रखने का प्रयास किया जाता है और कैश इन हैंड कम रखा जाता है. इस कारण से, बचे हुए फाइनेंस को बिज़नेस के विस्तार, प्रॉडक्शन के पैमाने को बढ़ाने, आदि के लिए काम में लिया जा सकता है.

बेहतर कार्यशील पूंजी फाइनेंसिंग पॉलिसी एक फर्म को अपनी आवश्यकताओं के अनुसार कार्यशील पूंजी लोन का चयन करने में सक्षम बनाती है.

अन्य लोकप्रिय प्रॉडक्ट के बारे में जानें

Flexi Business Loan

फ्लेक्सी लोन कन्वर्ज़न

अपने मौजूदा लोन को बदलें | 56% तक कम EMI का भुगतान करें

अधिक जानें
Machinery Loan

मशीनरी लोन

मशीनरी को अपग्रेड करने के लिए लोन
रु. 20 लाख तक | EMI के रूप में केवल ब्याज़ का भुगतान करें

अधिक जानें
Working Capital Loan People Considered Image

कार्यशील पूंजी

ऑपरेशनल खर्चों का संचालन करें
रु. 20 लाख तक | सुविधाजनक अवधि के विकल्प

अधिक जानें
Business Loan for Women People Considered Image

महिलाओं के लिए बिज़नेस लोन

कस्टमाइज़्ड लोन प्राप्त करें
रु. 20 लाख तक | न्यूनतम डॉक्यूमेंटेशन

अधिक जानें