लाल डोरा सर्टिफिकेट क्या है?

2 मिनट का आर्टिकल

'लाल डोरा' शब्द का पहला इस्तेमाल संपत्ति वर्गीकरण के लिए 1908 में किया गया था, और विशिष्ट कृषि उपयोग के लिए ग्रामीण भूमि के एक्सटेंशन को संदर्भित करता था. आज के समय में, यह दिल्ली सरकार द्वारा लाल डोरा के रूप में वर्गीकृत किए गए प्रॉपर्टीज़ को दर्शाता है.

लाल डोरा सर्टिफिकेशन वाला व्यक्ति लाल डोरा क्षेत्र में एक बिल्डिंग बना सकता है. इसलिए, अगर आप इस क्षेत्र में भूमि का मालिक हैं, तो इस सर्टिफिकेट का लाभ उठाएं और बजाज फिनसर्व से मॉरगेज लोन लेकर अपने घर का निर्माण करें

प्रोसेस को बहुत आसान बनाने के लिए, यहां प्रॉपर्टी पर लोन के लिए कैसे अप्लाई करें.

प्रॉपर्टी पर लोन के लिए अप्लाई करने के चरण

  • ऑनलाइन अप्लाई करने के लिए हमारे एप्लीकेशन फॉर्म पर क्लिक करें
  • अपने पर्सनल और प्रॉपर्टी का विवरण दर्ज करें
  • सर्वश्रेष्ठ ऑफर के लिए अपनी आय का विवरण दर्ज करें

अपना विवरण सबमिट करने के बाद हमारे रिलेशनशिप मैनेजर आपको अगले चरणों पर कॉल करेंगे और आपको गाइड करेंगे.

प्रमाणपत्र

लिंक

ईसी

एनकम्ब्रेंस (ऋणभार) सर्टिफिकेट

नॉन-ईसी

नॉन एनकम्ब्रेंस सर्टिफिकेट

पीसी

कब्जे का सर्टिफिकेट

ओसी

ऑक्युपेंसी (कब्जा) सर्टिफिकेट

तमिलनाडु

तमिलनाडु में एनकम्ब्रेंस सर्टिफिकेट

कर्नाटक

कर्नाटक में एनकम्ब्रेंस सर्टिफिकेट

तेलंगाना

तेलंगाना में एनकम्ब्रेंस सर्टिफिकेट

बेंगलुरु

बेंगलुरु में एनकम्ब्रेंस सर्टिफिकेट

केरल

केरल में एनकम्ब्रेंस सर्टिफिकेट

आंध्र प्रदेश

आंध्र प्रदेश में एनकम्ब्रेंस सर्टिफिकेट

अधिक पढ़ें कम पढ़ें