• Apply Now

Money in bank in 24 hours

Apply Now

इन तरीकों द्वारा ऑनलाइन फ्रॉड्स से बचें

  • हाईलाइट 

  • इंटरनेट के आधुनिक युग में डिजिटल धोखेबाज़ों  से बचना आव्यशक है 

  • ऑनलाइन फ्रॉड्स से कैसे बचा जा सकते है  

  • कंप्यूटर अथवा किसी भी तकनीकी यंत्र को उप-तू-डेट रखें 

  • अपने पासवर्ड और निजी जानकारी का बचाव करें  

जहाँ इंटरनेट सुविधाओं ने हमारे जीवन को सरल बना दिया है वहीं इसके नकारात्मक प्रभावों से बहुत से लोगों का भारी नुकसान भी हुआ है। इस इंटरनेट सेवा के युग में साइबर क्राइम और ऑनलाइन फ्रॉड के बढ़ते आंकड़ें, यकीनन चिंता का विषय हैं। हर वर्ष, लाखों लोग इंटरनेट फ्रॉड के चक्कर में फंस कर अपना बहुत पैसा गवाते हैं।

विशेषज्ञों के अनुसार, आज के समय में ऑनलाइन धोखाधड़ी आम लोगों को ठगने का एक नया माध्यम बन गया है। इसलिए यह बहुत ज़रूरी है की आप पहले से सतर्क रहे और निम्नलिखित तरीकों से अपने और अपने परिवार को बचाएँ: 

1. अपने कंप्यूटर अथवा किसी भी तकनीकी यंत्र को उप-तू-डेट रखें  

Avoid online frauds through these methods

इंटरनेट फ्रॉड से बचने के उपायों में से यह सबसे पहला कदम जो लेना बहुत ज़रूरी है। अपने लैपटॉप, कंप्यूटर, आई-पद, और मोबाइल फ़ोन पर सेक्युरिटी सॉफ्टवेयर ज़रूर डलवायें और इस बात की पुष्टि कर ले की आपका वेब ब्राउज़र, और ऑपरेटिंग सिस्टम किसी भी प्रकार के वायरस और ऑनलाइन फ्रॉड से सुरक्षित है। 

2. पुख्ता व लम्बे पासवर्ड द्वारा ऑनलाइन धोखादड़ी से बचें  

ऑनलाइन धोखादड़ी से बचने के लिए सबसे अच्छा रास्ता है अपने किसी भी तकनीकी यन्त्र पर लम्बे व पुख्ता पासवर्ड रखना। अपने नाम अथवा अपने जन्मदिन पर कोई भी पासवर्ड न रखें। एक मज़बूत पासवर्ड बनाने के लिए उसे विभिन्न वर्ण, नंबर और स्पेशल चरक्टेर्स इस्तेमाल करें  

3. फिशिंग स्कैम से सावधान रहे।  

यह ऑनलाइन धोकेबाज़ी के चंगुल में फंसने का सबसे आम तरीका है। ऐसा भी संभव है की आपको बजाज की तरफ से कोई ईमेल अथवा एस-एम-एस आए जो आपसे आपके अकाउंट और पासवर्ड की जानकारी लेना चाहता हो परन्तु यहीं पर आपको सावधान हो जाने की आव्यशकता है।  ऐसी किसी भी परिस्थिति में वह ईमेल अथवा एस-एम-एस को फ़ेडरल ट्रेड कमिशन के पास भेज दे।  याद रखें आपका सावधान रहना ही आपका सबसे बड़ा बचाव है।    

4. अपनी निजी जानकारी को निजी रखें  

Avoid online frauds through these methods

आपको यह जानकार हैरानी होगी की डिजिटल दोखेबाज़ अधिकांश आपकी सोशल मीडिया प्रोफाइल द्वारा आपकी महत्वपूर्ण जानकारी जैसे घर का एड्रेस, फ़ोन नंबर, जन्मदिन, बैंक अकाउंट नंबर की जानकारी ग्रहण करते हैं। आज के इस सोशल मीडिया युग में आपको इन डिजिटल चोरों से दो कदम आगे रहने की ज़रूरत है। अपनी निजी जानकारी को प्राइवेसी सेटिंग द्वारा प्राइवेट रखें और यदि आपको किसी अनजाने नंबर से फ़ोन अथवा मैसेज आता है तो उसको जवाब न दें।    

अपना बचाव कैसे करें?  

यदि आपका संपर्क किसी भी डिजिटल धोकेबाज़ से हुआ है तो यह जान ले की आपको डरने की कोई आव्यशकता नहीं है। जिस भी ईमेल आई डी, फ़ोन नंबर, अथवा एस-एम-एस से आपको यह जानकारी प्राप्त हुई है उसको जल्द से जल्द रिपोर्ट करें और उसके खिलाफ एफ-आई-आर भी दर्ज करें। 

यदि आपको ऐसा लगता है की कोई भी फ्रॉड व्यक्ति आपको बजाज की तरफ से संपर्क कर रहा है तो तुरंत उसे भी रिपोर्ट करें।  

सावधान रहें। सुरक्षित रहें। 

How would you rate this article

 Please let us know why?

What did you dislike?

What did you dislike?

What did you like?

What did you like?

What did you like?